February 7, 2023

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने निरस्त की पटवारी परिक्षा, जानिए कब होगी निरस्त भर्ती परिक्षा

भारत के कई शहरों में 5जी सुविधा शुरू हो चुकी है। उत्तराखंड में 5जी सेवा शुरू हो गई है। देहरादून में बीते बुधवार से 5जी सेवा शुरू हो गई है। कई दिनों की तैयारी के बाद रिलायंस जियो ने बुधवार को उत्तराखंड के देहरादून से अपनी 5जी सेवाओं की शुरुआत कर दी है।

इन्टरनेट पर मीम बनाकर उड़ाई आयोग की धज्जियाँ

लोक सेवा आयोग परिसर में किसी को भी प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है।अब कहा जा रहा है कि आयोग ने परीक्षा रद्द कर दी है और दोबारा परीक्षा कराई जाएगी. यह भी बताया गया कि आयोग द्वारा अब पटवारी/लेखपाल परीक्षा दोबारा 12 फरवरी को कराई जाएगी। सहायक लेखापाल की परीक्षा जो 12 फरवरी को होनी थी अब 19 फरवरी को होगी। शेष परीक्षाएं अपने कार्यक्रम के अनुसार होंगी।

उत्तराखंड में युवाओं को रोजगार देने के मामले में हालात ठीक नहीं चल रहे हैं। स्नातक स्तर की परीक्षा में घोटाले के बाद चार दिन पहले हुई पटवारी भर्ती परीक्षा में शामिल होने वालों के लिए युवाओं के लिए एक और बुरी खबर आ रही है. बताया जा रहा है कि परीक्षा का पेपर लीक हो गया है।

एसटीएफ को शिकायत मिली है, जिसके बाद लक्सर से तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। पेपर लीक होने की खबर पक्की है या नहीं। यह तय है कि प्रदेश में एक नए हाकम सिंह का जन्म जरूर हुआ है, जिन्होंने उत्तराखंड लोक सेवा आयोग में भी सेंध लगाई है।

बताया जा रहा है कि 13 जिलों के परीक्षा केंद्रों पर 8 जनवरी 2023 को हुई परीक्षा के लिए कई अभ्यर्थियों को पेपर उपलब्ध कराया गया था. जिसमें हजारों की संख्या में अभ्यर्थी उपस्थित हुए। भर्ती परीक्षा 391 पदवारी पदों के लिए आयोजित की गई थी।

जिसके तहत अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, चंपावत, देहरादून, नैनीताल, पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, टिहरी, उत्तरकाशी, हरिद्वार और उधमसिंहनगर जिलों में रिक्त पदों को भरा जाना था।

अब भर्ती पत्र लीक होने से हड़कंप मच गया है। पूरे मामले पर उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के अधिकारियों ने चुप्पी साध रखी है। अध्यक्ष राकेश कुमार और सचिव गिरधारी सिंह रावत फोन पर बात नहीं कर रहे हैं। कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

Vaibhav Patwal

Haldwani news

View all posts by Vaibhav Patwal →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *