February 7, 2023

उत्तराखंड में अब सड़क पर अब बरात का भी होगा चालान, शादी करने से पहले सोचे जहा से निकलेगी बारात

उत्तराखंड में शादियों का सीजन जोरों-शोरों से चल रहा है। बारात के लिए मरना ट्रैफिक जाम जैसी समस्या सबसे आम है। ऐसे में कुमाऊं का सबसे बड़ा शहर हल्द्वानी इन दिनों और भी कई समस्याओं से जूझ रहा है।

10 बजे के बाद चला DJ तो होगा मालिकों पर भारी चालान

इन समस्याओं को नियंत्रित करने के लिए हल्द्वानी पुलिस ने कुछ नियम कायदे बनाए हैं जिनका पालन करना अनिवार्य है। इसके लिए पुलिस ने आगामी विवाह समारोह में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के संबंध में बैंक्वेट हॉल प्रबंधकों, डीजे संचालकों, बैंड बाजा संचालकों के साथ बैठक की।

एसएसपी नैनीताल पंकज भट्ट ने बताया कि बैंक्वेट हॉल प्रबंधक ट्रैफिक से बचने के लिए अपने बैंक्वेट हॉल में पार्किंग की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करें. अगर किसी के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है तो वह दूसरी जगह पार्किंग की व्यवस्था करा देगा।

इसके साथ ही पुलिस ने बैंक्वेट हॉल और बैंड कंडक्टर को आदेश दिया है कि बारात 10 बजे से पहले बैंक्वेट हॉल में आ जाए, ताकि यातायात व्यवस्था बनी रहे। वहीं यह भी बताया गया है कि बैंक्वेट हॉल के मैनेजर, कैटरिंग, डीजे, बैंड डायरेक्टर और हॉल में काम करने वाले सदस्य अपना सत्यपान कराएं अन्यथा प्रबंधकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

डीजे संचालकों को सख्ती से कहा गया है कि रात 10 बजे के बाद किसी भी कीमत पर डीजे न बजाएं और उन्हें माननीय न्यायालय के दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। यदि यह पाया जाता है कि जुलूस में सड़क पर नाच रहे व्यक्ति से यातायात प्रभावित होता है या किसी प्रकार की दुर्घटना होती है तो इसके लिए पूरी तरह से बैंड/बैंक्वेट हॉल संचालक जिम्मेदार होंगे।

 

डीजे संचालकों द्वारा बताया गया कि यदि शादी समारोह में आए लड़के-लड़की पक्ष के मेहमानों द्वारा 10:00 बजे के बाद डीजे बजाने का दबाव बनाया जाता है तो संचालकों को डायल 112 पर कॉल कर तत्काल पुलिस को सूचित करने को कहा गया।

Vaibhav Patwal

Haldwani news

View all posts by Vaibhav Patwal →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *