Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / शुरू हुआ दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे की एलिवेटेड रोड का काम, खड़े हुये 200 से ऊपर पिलर

शुरू हुआ दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे की एलिवेटेड रोड का काम, खड़े हुये 200 से ऊपर पिलर

दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस-वे एक ऐसा प्रोजेक्ट है, जो उत्तराखंड के साथ-साथ देखी के लिए भी बहुत फायदेमंद होगा। यह उत्तराखंड के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। प्रोजेक्ट के धरातल पर उतरने के बाद देहरादून से दिल्ली का सफर आसान और तेज हो जाएगा।

 

इसके पूरक होने के बाद दून से दिल्ली पहुंचने में महज ढाई से तीन घंटे का समय लगेगा। इस प्रोजेक्ट में एशिया का सबसे बड़ा वाइल्ड लाइफ कॉरिडोर भी बनाया जाएगा। प्रोजेक्ट का काम तेजी से चल रहा है। इसके लिए एलिवेटेड रोड के 230 पिलर का काम पूरा हो चुका है।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी दिन-रात काम कर रहे हैं। हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने धर्मपुर विधायक विनोद चमोली के साथ बुधवार को एलिवेटेड रोड की प्रगति की समीक्षा की, दोनों ने कार्य की गति पर संतोष व्यक्त किया और अधिकारियों को कुछ दिशा-निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि शहर के विस्तार के साथ ट्रैफिक का दबाव काफी बढ़ गया है। इसे देखते हुए आईएसबीटी से देहरादून की ओर जाने वाले एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट को सीधे फ्लाईओवर से जोड़ा जाए। उन्होंने चंद्रबनी से आशारोड़ी तक फुटपाथ तैयार करने के भी निर्देश दिए।

इस मौके पर परियोजना निदेशक पंकज मौर्य ने बताया कि 12 किलोमीटर लंबी इस एलिवेटेड रोड के लिए कुल 550 पिलर बनाए जाएंगे। इनमें से 230 पिलर बन चुके हैं और करीब 300 पिलर की नींव का काम पूरा हो चुका है।

340 मीटर की डाटकाली टनल का काम भी अक्टूबर 2023 की जगह अगले साल मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा। एलिवेटेड रोड के नीचे का हिस्सा वन्य जीवों की आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा। परियोजना के पूरा होने के बाद गति को रोकने वाले और जाम लगाने वाले सभी मोड़ समाप्त हो जाएंगे, जिससे देहरादून से दिल्ली की दूरी ढाई घंटे कम हो जाएगी।

आपको बता दें कि दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे परियोजना 210 किलोमीटर लंबी है, जिसका बजट लगभग 12,000 करोड़ रुपये है। इसके तहत 12 किलोमीटर लंबी एलिवेटेड रोड बनाई जाएगी। एक्सप्रेसवे को इस तरह बनाया जाएगा कि वाहन 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकें। अक्टूबर 2023 तक सड़क का निर्माण पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news