Breaking News
Home / अजब गज़ब / पत्नी की जिद के आगे नहीं टिक पाया पति, 56 हज़ार की छिल्लर लेकर पँहुचा शोरूम

पत्नी की जिद के आगे नहीं टिक पाया पति, 56 हज़ार की छिल्लर लेकर पँहुचा शोरूम

आपने दुनिया भर में कई जगहों की लव एंड स्टोरीज के कई उदाहरण सुने होंगे लेकिन इस बार हम आपके लिए एक ऐसे शख्स की कहानी लेकर आए हैं जो पति-पत्नी के बीच बदल गया, यह स्टोय आपका दिन बना देगा जो आपका दिन बना देगा।

उत्तराखंड में पति ने स्कूटी के लिए जमा किए सिक्के

यहां एक पति ने अपनी पत्नी की स्कूटी दिलाने के लिए रोज थोड़ा-थोड़ा बचाकर 56 हजार सिक्के जमा किए। दिवाली के दिन जब लोग घर का नया सामान खरीदने में व्यस्त थे तो पति ने शोरूम पहुंचकर पत्नी के लिए स्कूटी खरीदी।

शोरूम के कर्मचारी भी हजारों सिक्के देखकर हैरान रह गए। यह देख हर कोई तारीफ कर रहा था, लेकिन हर कोई पति के हौसले की तारीफ कर रहा था। हम जिस शख्स की बात कर रहे हैं उसका नाम आकाश है।

 

आकाश उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले के गदरपुर के कौशलपुर गांव में रहते हैं। शुक्रवार को जब आकाश 40 हजार सिक्कों को लेकर स्कूटी शोरूम पहुंचे तो सभी दंग रह गए।

आकाश ने सिक्कों को खेती में इस्तेमाल होने वाले बड़े-बड़े ड्रमों में जमा किया था। 56 हजार सिक्कों का कुल वजन करीब 30 से 35 किलो होगा। आकाश बताते हैं कि उन्होंने सात साल पहले पेप्सी की एजेंसी ली थी। जब वह घर जाते थे तो जेब में रोज कुछ न कुछ सिक्के होते थे।

 

ऐसे में उन्होंने इन्हें जमा करना शुरू किया। इस बार दीपावली में पत्नी ने स्कूटी की फरमाइश की तो उन्होंने तय किया कि इन सिक्कों को देकर वह स्कूटी खरीदेंगे।

उन्होंने अपनी एजेंसी के कर्मचारी को टीवीएस शोरूम भेजा, साथ में 40 हजार के सिक्के भी थे। 16 हजार के सिक्के वो बाद में जमा करेंगे, और शेष रकम के लिए वह फाइनेंस कराकर यहां से स्कूटी घर ले जाएंगे।

 

आकाश की अल्प बचत की आदत की सभी ने तारीफ की।आकाश कहते है कि हर व्यक्ति को छोटी-छोटी बचत की ओर ध्यान देना चाहिए, जिससे कि समय आने पर यही छोटी बचत बड़ी रकम बनकर हमारे काम आ सके

About Vaibhav Patwal

Haldwani news