May 30, 2023

Mohammed Shami के कमाल को देखकर सचिन तेंदुलकर बोले- उसने साबित किया कि.

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का मानना है कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की अनुपस्थिति टी20 विश्वकप में भारत के लिए बड़ा झटका है लेकिन मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) अपनी गति और कौशल से उनकी कमी को दूर कर सकते हैं. बुमराह पीठ दर्द के कारण अनिश्चित काल के लिए क्रिकेट से बाहर हो गए हैं. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का मानना है कि जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की अनुपस्थिति टी20 विश्वकप में भारत के लिए बड़ा झटका है लेकिन मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) अपनी गति और कौशल से उनकी कमी को दूर कर सकते हैं. बुमराह पीठ दर्द के कारण अनिश्चित काल के लिए क्रिकेट से बाहर हो गए हैं. उनकी जगह शमी को टीम में शामिल किया गया है जिन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में पिछले विश्वकप के बाद कोई टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है. अमरोहा के इस 32 वर्षीय गेंदबाज ने हालांकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सोमवार को खेले गए अभ्यास मैच में 20वें ओवर में गेंद संभाली और तीन विकेट लेकर भारत को छह रन से जीत दिलाई. तेंदुलकर ने पीटीआई से विशेष साक्षात्कार में कहा,‘‘ बुमराह का नहीं होना बड़ा नुकसान है क्योंकि हमें निश्चित तौर पर एक स्ट्राइक गेंदबाज चाहिए. एक ऐसा वास्तविक तेज गेंदबाज जो बल्लेबाजों पर हावी होकर विकेट ले सके. शमी इसे साबित कर चुका है और वह आदर्श विकल्प नजर आता है.”यह दिग्गज बल्लेबाज बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह से काफी प्रभावित नजर आता है जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है. तेंदुलकर ने कहा,‘‘ अर्शदीप ने काफी उम्मीदें जगाई हैं और वह संतुलित गेंदबाज नजर आता है। मैंने उनमें जो कुछ भी देखा मुझे प्रतिबद्ध खिलाड़ी लगा क्योंकि जब आप किसी खिलाड़ी पर गौर करते हैं तो उसकी मानसिकता देखते हैं.” इस दिग्गज बल्लेबाज ने कहा कि किसी खास रणनीति के लिए प्रतिबद्ध होना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना उसे तैयार करना. तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मुझे यह सबसे अच्छी बात लगी कि यदि अर्शदीप के पास कोई रणनीति है तो वह उसके प्रति प्रतिबद्ध रहता है और यह इस प्रारूप में बेहद महत्वपूर्ण होता है क्योंकि बल्लेबाज ढीले और कुछ नए तरह के शॉट खेलते हैं। इसलिए यदि आपकी कोई रणनीति है तो उस पर पूरी तरह अमल करो.’ भारत को अपने मैच मेलबर्न, सिडनी, एडिलेड और पर्थ में खेलने हैं जहां की सीमा रेखा काफी बड़ी है. तेंदुलकर का मानना है अंतिम एकादश में स्पिनरों का चयन करते समय मैदान का आकार ध्यान में रखना चाहिए. उन्होंने कहा,‘‘ आप अधिकतर उस दिशा में खेलते हैं जहां गेंद टर्न हो रही हो कुछ बल्लेबाज होते हैं जो टर्न के विपरीत लगातार हिट करते हैं। आमतौर पर कप्तान सीमा रेखा की दूरी को देखकर फैसला करते हैं कि किस तरह का स्पिनर अंतिम एकादश में रखना है. आप स्पिनर का चयन करते समय हवा की दिशा का ध्यान भी रखते है. भारत के पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले पहले मैच में रोहित शर्मा, केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या और दिनेश कार्तिक को अंतिम एकादश में जगह मिल सकती है ऐसे में एकमात्र वामहस्त बल्लेबाज ऋषभ पंत को बाहर बैठना पड़ सकता है. तेंदुलकर टीम संयोजन पर बात नहीं करना चाहते लेकिन उनका मानना है कि बाएं हाथ के बल्लेबाज के होने से बल्लेबाजी क्रम को विविधता मिलती है. उन्होंने कहा,‘‘ बाएं हाथ का बल्लेबाज निश्चित तौर पर महत्वपूर्ण होता है. गेंदबाजों को और क्षेत्ररक्षकों को उसके हिसाब से खुद को समायोजित करना पड़ता है और अगर वे लगातार स्ट्राइक रोटेट करते हैं तो फिर गेंदबाजों को इसमें परेशानी होती है. तेंदुलकर ने इसके साथ ही कहा कि परिस्थितियों और टॉस की भूमिका भी अहम होगी. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है की कुछ अवसरों पर परिस्थितियों की भूमिका भी महत्वपूर्ण होगी और स्कोर का बचाव करना आसान नहीं होगा. परिस्थितियां मैच के दौरान बदल सकती हैं और लक्ष्य का पीछा करना आसान हो सकता है. कुछ मैदानों पर टॉस की भूमिका भी महत्वपूर्ण होगी.

शमी की फिटनेस ने जीता कोहली का दिल, बोले ‘पहले कभी नहीं देखा गेंदबाज का ऐसा रूप’..

टीम इंडिया ने शनिवार को ऑस्ट्रेलिया को पांच मैचों की वन-डे सीरीज के पहले मुकाबले में छह विकेट से मात दी। भारत की इस जीत में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की भी काफी अहम भूमिका रही। शमी ने इस मैच में 10 ओवर में 44 रन देकर दो अहम विकेट चटकाए। पिछले साल शमी के जिंदगी में इतनी उथल-पुथल होने के बावजूद गेंदबाज ने शानदार वापसी करते हुए न सिर्फ टेस्ट क्रिकेट में खुद को साबित किया, बल्कि अपने वन-डे करियर की भी बेस्ट परफॉर्मेंस का सबूत पेश किया। पहले कभी सफेद गेंद से उन्हें बल्लेबाजों पर ऐसा आक्रमण करते नहीं देखा था। शमी की जबर्दस्त फॉर्म को देखने के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भी मैच पोस्ट प्रेजेंटेशन में उनकी तारीफ करने से पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा मैंने कभी शमी का यह रूप नहीं देखा। उन्होंने कहा कि शमी में विकेट लेने की भूख अभी खत्म नहीं हुई है और वह बेहतर लाइन-लेंथ पर गेंदबाजी कर रहे हैं | साथ ही कोहली ने कहा कि शमी न सिर्फ अपनी गेंदबाजी पर जमकर पसीना बहा रहे हैं, बल्कि फीजिक पर भी पूरा ध्यान दे रहे हैं। शमी ने अपना वजन 5 से 6 किलोग्राम कम किया है। कोहली ने कहा कि वह शमी के प्रदर्शन से काफी खुश हैं। बता दें कि शमी की धाकड़ गेंदबाजी और जबर्दस्त फॉर्म ने भारतीय क्रिकेट के चयनकर्ताओं का सिरदर्द भी दूर कर दिया है। वर्ल्ड कप से पहले सिलेक्टर्स तीसरे तेज गेंदबाज को लेकर काफी चिंतित थे। उन्हें भुवनेश्वर और बुमराह के अलावा तीसरा तेज गेंदबाज शमी के रूप में मिल गया है।

शमी के खिलाफ भद्दे कॉमेंट्स पर फेसबुक का ऐक्शन, गद्दार-देशद्रोही कह रहे थे लोग

यूएई-ओमान में जारी वर्ल्ड टी-20 में पाकिस्तान से मिली हार के बाद भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को अभद्र कमेंट्स का सामना करना पड़ा था। इंटरनेट यूजर्स ने उनके लिए गद्दार, देशद्रोही जैसे घटिया शब्दों तक का इस्तेमाल किया था, लेकिन अब फेसबुक ने उन सारी आपत्तिजनक टिप्पणियों को डिलिट कर दिया है। फेसबुक ने बयान में कहा कि किसी को भी, कहीं भी दुर्व्यवहार का अनुभव नहीं होना चाहिए। हम अपने प्लेटफॉर्म पर इसे नहीं चाहते। फेसबुक के प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने भारतीय क्रिकेटर पर दुर्व्यवहार का निर्देश देने वाली टिप्पणियों को हटाने के लिए तुरंत उपाय शुरू किए और हम उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करना जारी रखेंगे जो हमारे सामुदायिक मानकों का उल्लंघन करते हैं।’ प्रवक्ता ने कहा, ‘हमने हाल ही में धमकाने और उत्पीड़न पर अपनी नीति को अपडेट किए जाने की घोषणा की है जो सभी सार्वजनिक डेटा की सुरक्षा बढ़ाती है।’ विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम ने आईसीसी टी-20 विश्व कप अभियान की शुरुआत निराशाजनक रूप से की, क्योंकि उसने अपना पहला मुकाबला 10 विकेट से गंवा दिया। इस मैच में शमी 3.5 ओवर में 43 रन देकर सबसे महंगे गेंदबाज के रूप में उभरे। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ट्रोलरों ने उनके निम्न प्रदर्शन को उनके धर्म से जोड़ा। फेसबुक लोगों की संरक्षित विशेषताओं जाति, धर्म, राष्ट्रीयता या यौन रुझान के आधार पर हमलों की अनुमति नहीं देता है। इसमें घृणास्पद संदर्भ में उपयोग किए जाने पर इमोजी का उपयोग भी शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *