Breaking News
Home / देहरादून न्यूज़ / 𝙰𝚖𝚒𝚝𝚊𝚋𝚑 𝙱𝚊𝚌𝚑𝚌𝚑𝚊𝚗 𝙱𝚒𝚛𝚝𝚑𝚍𝚊𝚢: जब अमिताभ बच्चन पर पड़ी थी बदकिस्मती की मार, तब यश चोपड़ा ने थामा था हाथ

𝙰𝚖𝚒𝚝𝚊𝚋𝚑 𝙱𝚊𝚌𝚑𝚌𝚑𝚊𝚗 𝙱𝚒𝚛𝚝𝚑𝚍𝚊𝚢: जब अमिताभ बच्चन पर पड़ी थी बदकिस्मती की मार, तब यश चोपड़ा ने थामा था हाथ

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन का जलवा आज भी बॉलीवुड में कायम है। उनकी नेटवर्थ के आगे बड़े-बड़े एक्टर्स फेल हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि अमिताभ बच्चन भी जिंदगी में वह समय देख चुके हैं जब वह पाई-पाई के मोहताज हो गए थे। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन पिछले पांच से ज्यादा दशक से अपने दर्शकों का मनोरंजन कर रहे हैं। आज भी वह जिस किरदार में आते हैं उस कैरेक्टर को अपना बना लेते हैं। एक्टिंग हो, कमाई हो या फिर सोशल मीडिया पर चाहने वालों की लिस्ट, बॉलीवुड के शहंशाह किसी भी मामले में आज के सितारों से पीछे नहीं है। बिग बी के पास मुंबई समेत कई शहरों में अपने बंगले हैं, उनकी नेटवर्थ लगभग 1000 करोड़ के आसपास है। वह फिल्मों के अलावा टीवी शो केबीसी और एड्स से भी खूब पैसा कमाते हैं। उनकी जिंदगी में आज ये शानो-शौकत देखकर इस बात का अंदाजा लगाना बहुत ही मुश्किल है कि एक समय पर बिग बी पाई-पाई के मोहताज हो गए थे, लेकिन अपने बुरे दौर में भी बिग बी ने हार नहीं मानी और अपना संघर्ष जारी रखा। 11 अक्टूबर को अमिताभ बच्चन अपना 80वां जन्मदिन मना रहे हैं और उनके इस खास दिन पर हम आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं। इस बात पर यकीन करना शायद हर किसी के लिए नामुमकिन है कि अमिताभ बच्चन जैसी हस्ती भी जिंदगी का सबसे बुरा दौर देख सकती हैं। लेकिन आपको बता दें कि नई सदी की शुरुआत के साथ अमिताभ बच्चन की जिंदगी में संघर्ष का दौर शुरू हुआ था। रिपोर्ट्स की मानें तो अमिताभ बच्चन ने साल 1995 में अपनी एबीसीएल(अमिताभ बच्चन कॉर्पोरेशन लिमिटेड) नाम की प्रोडक्शन और मैनेजमेंट कंपनी स्टार्ट की थी। जिसमें उन्होंने कई फिल्में बनाई, लेकिन एक के बाद एक फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह से पिट गई, जिससे उनकी कंपनी का काफी नुकसान हुआ। ऐसा कहा जाता है कि उस दौरान बिग बी 90 करोड़ के कर्जे में डूब गए थे और उसे चुकाते-चुकाते उनके पास केवल एक ही घर बच गया था। अमिताभ बच्चन ने 1993 से लेकर 2001 तक अपने फिल्मी करियर में काफी उतार चढ़ाव देखा। साल 1992 में रिलीज हुई फिल्म ‘खुदा गवाह’ जहां सुपरहिट रही, तो वहीं उसके बाद 1993 में आई फिल्म इंसानियत, तेरे मेरे सपने, मृत्युदाता, मेजर साब, सूर्यवंशम और लाल बादशाह जैसी एक के बाद एक कई फ्लॉप फिल्में दी। जिसने उनके करियर को खतरे में डाल दिया। इनमें से अमिताभ बच्चन ने कुछ फिल्मों को प्रोड्यूस भी किया। हालांकि 2001 में आई फिल्म ‘कभी खुशी कभी गम’ ने उनके करियर को एक बार फिर से रफ्तार दी। लेकिन इस बीच बिग बी को निजी जिंदगी में काफी कुछ सहना पड़ा था। अभिषेक बच्चन ने एक इंटरव्यू में खुद इस बात का खुलासा किया था कि एक समय ऐसा था, जब उन्हें खाने के लिए भी उधार लेना पड़ता था। लगातार फिल्मों के फ्लॉप होने और साथ ही कर्जे में डूबने की वजह से अमिताभ बच्चन डिप्रेशन का भी शिकार हो गए थे। अपने संघर्ष के दौरान उन्हें जिस भी तरह की फिल्में मिलती वह करते जाते। रिपोर्ट्स की मानें तो अमिताभ बच्चन की स्थिति देखते हुए अमिताभ बच्चन को एक तरफ जहां यश चोपड़ा ने उन्हें फिल्म ‘मोहब्बतें’ ऑफर की, तो वहीं टीवी पर उन्हें बड़ा शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ भी होस्ट करने का मौका मिला।

𝙰𝚖𝚒𝚝𝚊𝚋𝚑 𝙱𝚊𝚌𝚑𝚌𝚑𝚊𝚗 𝙱𝚒𝚛𝚝𝚑𝚍𝚊𝚢: अभिषेक बच्चन से लेकर नातिन नव्या नंदा तक, परिवार ने ऐसे खास बनाया बिग बी का जन्मदिन

बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन के 80वें जन्मदिन को खास बनाने में उनके फैंस और उनका परिवार कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। उनके इस दिन को उनके बच्चों श्वेता नंदा नव्या नंदा और अभिषेक बच्चन ने और भी खास बना दिया। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन के 80वें जन्मदिन को खास बनाने में सितारों से लेकर फैंस और उनका परिवार कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। पूरे देशभर से बिग बी को उनके जन्मदिन की खास बधाई मिल रही हैं। एक्टर के घर के बाहर उनके फैंस का जमावड़ा लगा हुआ है। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर एक्टर की एक झलक देखने के लिए लोग यूपी बिहार से आते हैं। बिग बी भी अपने फैंस को निराश नहीं करते और वह खास दिन पर अपने फैंस से रूबरू होते हैं। अमिताभ बच्चन के इस जन्मदिन को और भी खास बनाने के लिए कुछ ऐसा किया जिससे फैंस भी काफी इमोशनल हो गए। अमिताभ बच्चन के इकलौते और लाडले बेटे अभिषेक बच्चन ने अपने पिता के 80 वें जन्मदिन को यादगार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। एक्टर अपनी मां जया बच्चन के साथ बिग बी को सरप्राइज देने के लिए कौन बनेगा करोड़पति के सेट पर पहुंच गए, जहां इन तीनों ने मिलकर कई पुरानी यादें ताजा की। अभिषेक बच्चन ने केबीसी 14 के एपिसोड का बीटीएस वीडियो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, ‘इस चीज को छुपाने के लिए खूब सारी प्लानिंग और बहुत सारी मेहनत करनी पड़ी, इसके अलावा इसे सही तरह से करने के लिए हमने बहुत सारी रिहर्सल भी की। लेकिन जैसा मैंने कहा कि वह इससे कम डिजर्व भी नहीं करते। ये बहुत ही इमोशनल मोमेंट हैं, जहां डैड उस जगह पर अपना 80वां जन्मदिन मना रहे हैं, जिस जगह से वह सबसे ज्यादा प्यार करते हैं, जोकि उनका वर्क प्लेस है। मैं सोनी टीवी और केबीसी की पूरी टीम का ये दिन खास बनाने के धन्यवाद करता हूं’। श्वेता बच्चन ने भी अपने पिता अमिताभ बच्चन के साथ उनके जन्मदिन के खास मौके पर एक बहुत ही प्यारी सी तस्वीरें शेयर की है। पहली फोटो में जहां श्वेता बड़े ही प्यार से अपने पिता के गाल पर किस करती दिखाई दे रही हैं, तो वही दूसरी तस्वीर में बिग बी ने बड़े ही प्यार से नन्ही श्वेता का हाथ थामा हुआ है। वही अन्य तस्वीर में शहंशाह पिता हरिवंशराय बच्चन और मां तेजी बच्चन के साथ कैमरे को देखते हुए पोज कर रहे हैं। इन सभी फोटोज को शेयर करते हुए एक्ट्रेस ने एक कविता लिखी और इसी के साथ उन्होंने पिता को बधाई देते हुए लिखा, ‘मेरे ग्रैंड ओल्ड मैन के लिए, 80 वां जन्मदिन मुबारक हो’। अमिताभ बच्चन के बच्चों के अलावा उनकी नाती नव्या नंदा भी एक्टर के 80वें जन्मदिन पर काफी इमोशनल हो गईं। अपने नाना अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर नव्या ने उनके साथ एक बहुत ही प्यारी बचपन की तस्वीर शेयर की। इस ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर के साथ नव्या ने अपने कैप्शन में अग्निपथ फिल्म की कविता ‘तू थकेगा नहीं, तू रुकेगा नहीं’ शेयर की। इसके साथ ही नव्या ने लिखा, ‘आप जैसा ना कभी कोई था और ना ही कभी कोई आपकी तरह हो सकता है। जन्मदिन मुबारक हो नाना।

अमिताभ-रेखा के रोमांस सीन देख रो पड़ी थीं जया

भले ही रेखा-अमिताभ बच्चन और जया बच्चन के बीच प्रेम त्रिकोण की अफवाहों को कई दशक हो चुके हैं, लेकिन उनके रोमांस के विषय में अभी भी चिंगारी है. अमिताभ और जया इस कथित अफेयर के बारे में वर्षों से चुप्पी साधे हुए हैं, लेकिन रेखा के साथ ऐसा नहीं है, जो इस बारे में बात करने से कभी नहीं कतराती हैं | 1978 में ‘स्टारडस्ट’ के साथ एक साक्षात्कार के दौरान रेखा ने बताया था कि ‘कैसे उन्होंने जया को अपनी फिल्म ‘मुकद्दर का सिकंदर’ (𝙼𝚞𝚚𝚊𝚍𝚍𝚊𝚛 𝙺𝚊 𝚂𝚒𝚔𝚊𝚗𝚍𝚊𝚛) में अपने और अमिताभ के बीच अंतरंग दृश्यों को देख आहत और भावुक होते हुए देखा | उन्होंने कहा कि ‘एक बार, मैं प्रोजेक्शन रूम के माध्यम से पूरे (बच्चन) परिवार को देख रही थी जब वे ‘मुकद्दर का सिकंदर’ का ट्रायल शो देखने आए. जया आगे की पंक्ति में बैठी थीं और वह (अमिताभ) और उनके माता-पिता उसके पीछे पंक्ति की पंक्ति में थे. वे उन्हें उतना स्पष्ट रूप से नहीं देख सके जितना मैं देख सकती थी. हमारे प्रेम दृश्यों के दौरान, मैंने उनके चेहरे पर आंसू बहाते हुए देखे.’ रेखा ने कहा, ‘एक हफ्ते बाद, इंडस्ट्री में हर कोई मुझसे कह रहा था कि उसने अपने निर्माताओं को स्पष्ट कर दिया है कि वह मेरे साथ काम नहीं करने जा रहे.’ उस समय की अफवाहें बताती हैं कि अमिताभ और रेखा के कथित अफेयर की खबरें सामने आने के बाद, जया और रेखा के बीच दरार पैदा हो गई, हालांकि वे पहले दोस्त थे. 1978 में रिलीज हुई ‘मुकद्दर का सिकंदर’ अमिताभ और रेखा की आखिरी फिल्म थी जब तक कि यश चोपड़ा ने उन्हें और जया को 1981 की फिल्म ‘सिलसिला’ में अभिनय का मौका नहीं दिया |

 

About ads