Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / मॉनसून की विदाई ने बढ़ा दी पहाड़ों में ठंडक, ऊँचाई वाले इलाको में बर्फबारी के साथ शीतलहर की चेतावनी

मॉनसून की विदाई ने बढ़ा दी पहाड़ों में ठंडक, ऊँचाई वाले इलाको में बर्फबारी के साथ शीतलहर की चेतावनी

उत्तराखंड में मानसून आखिरकार खत्म हो गया है और अब धीरे-धीरे सर्दी राज्य में दस्तक देगी। लेकिन इसके अलावा मौसम विभाग ने उत्तराखंड में बर्फबारी की घोषणा की है। ऊंचाई वाले इलाके जल्द ही बर्फ की सफेद चादर में नजर आएंगे।

 

ऐसे में अब लोगों को सावधान रहने की जरूरत है. सर्दी के गर्म कपड़े और रजाई बाहर आने लगी है। पिथौरागढ़, चमोली, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग में पहले से ही ठंडी हवाएं चल रही हैं। लोगों को सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि शीत लहर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती है।

बद्रीनाथ, केदारनाथ, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, यमुनोत्री, गंगोत्री और अन्य स्थानों की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी शुरू हो चुकी है। दिन पर दिन ठंड बढ़ती जा रही है। हेमकुंड साहिब में इस सीजन की शुरुआत में दो बार बर्फबारी हो चुकी है।

हेमकुंड साहिब को बंद होने में अब केवल तीन दिन शेष हैं। 10 अक्टूबर को हेमकुंड साहिब के कपाट सर्दी के लिए बंद कर दिए जाएंगे।

कहा जा रहा है कि उत्तराखंड के कुमाऊं और गढ़वाल क्षेत्र में अगले 24 घंटों में भारी बारिश की संभावना है। मौसम विभाग की ओर से इस बार ऑरेंज और यलो अलर्ट जारी किया गया है।

अभी कुमाऊं और गढ़वाल क्षेत्रों में बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाओं के कारण मौसम में बदलाव हो रहा है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण कुमाऊं और गढ़वाल के कुछ इलाकों में भारी बारिश की संभावना है।

भारी से बहुत भारी बारिश को देखते हुए नदियों, नालों के किनारे रहने वाले लोगों के साथ-साथ भूस्खलन संभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को भी सावधान रहने की जरूरत है। कुमाऊं क्षेत्र में भारी बारिश को देखते हुए सरकार, सरकार और राज्य आपदा प्रबंधन विभाग को रिपोर्ट भेज दी गई है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news