Breaking News
Home / देहरादून न्यूज़ / राज्य के 6 जिलों में जारी हुई चेतावनी, 10 अक्टूबर तक जम कर बरसेंगे मेघ: देखिये किस जिले में कितनी बारिश

राज्य के 6 जिलों में जारी हुई चेतावनी, 10 अक्टूबर तक जम कर बरसेंगे मेघ: देखिये किस जिले में कितनी बारिश

उत्तराखंड में मानसून का समय लगभग समाप्त हो चुका है, लेकिन उससे पहले राज्य में एक बार फिर बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक फिलहाल खराब मौसम से राहत नहीं मिलेगी।

5 अक्टूबर से हो सकती है राज्य के इस भाग में भारी बारिश

सप्ताह के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान में 5 अक्टूबर तक कोई राहत नहीं, मौसम विभाग ने उत्तराखंड राज्य के कुमाऊं क्षेत्र में गरज और आकाशीय बिजली गिरने की संभावना जताई है।

विभाग के अनुसार 2 अक्टूबर से उत्तराखंड राज्य के जिलों में मौसम शुष्क बना रहेगा। हालांकि, 5 अक्टूबर से फिर बारिश शुरू हो सकती है। मौसम पूर्वानुमान में कहा गया था कि राज्य के कुमाऊं क्षेत्र के सभी जिलों में नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर, पिथौरागढ़, उधम सिंह नगर में बारिश होगी।

गढ़वाल क्षेत्र के अल्मोड़ा और आसपास के जिलों में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। साथ ही गढ़वाल क्षेत्र में मौसम शुष्क बना रहेगा। मौसम विभाग ने 5 अक्टूबर के लिए येलो अलर्ट जारी करते हुए कुमाऊं क्षेत्र के कुछ स्थानों पर गरज और बिजली गिरने की संभावना भी जताई है. फिलहाल राज्य में मौसम साफ है।

अब सर्दी का मौसम शुरू होते ही लोगों को सुबह और रात में हल्की ठंडक महसूस होने लगी है। वहीं दूसरी ओर गंगोत्री व यमुनोत्री हाईवे बार-बार भूस्खलन के कारण अवरुद्ध हो रहे हैं और पर्यटक सड़क के बूथ साइड पर फंस गए हैं।

चकराता के सहिया क्षेत्र में अमलवा नदी की बाढ़ ने खेतों और घरों को तबाह कर दिया. इधर दास हाइड्रम योजना के साथ-साथ बहने वाली बाढ़ से किसानों की परेशानी बढ़ गई है।

योजना के साथ ही एक दर्जन से अधिक नहरों को भी नष्ट कर दिया गया है. जौनसार बावर क्षेत्र में अभी भी कई सड़कें अवरुद्ध हैं, जिससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

About Vaibhav Patwal

Haldwani news