Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड के पहाड़ों में बढ़ेगी शिक्षा की गुणवत्ता, राज्य में 2 सैनिक स्कूल प्रस्तावित

उत्तराखंड के पहाड़ों में बढ़ेगी शिक्षा की गुणवत्ता, राज्य में 2 सैनिक स्कूल प्रस्तावित

शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखंड से एक अच्छी खबर सामने आ रही है। मैदानी जिलों में दो सैनिक स्कूलों की पहचान करने के बाद अब सरकार पहाड़ी इलाकों में भी दो स्कूलों के लिए प्रस्ताव तैयार कर रही है।

 

जी हां, 9 सितंबर को हुई कैबिनेट बैठक में इस संबंध में फैसला लिया गया है. शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने सैनिक स्कूलों के लिए जमीन और भवनों की मार्किंग शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि एक स्कूल गढ़वाल मंडल और दूसरा कुमाऊं मंडल में प्रस्तावित है. दरअसल, उत्तराखंड ने युवाओं को सेना में भर्ती होने और उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार करने के लिए देश भर में सौ नए सैनिक स्कूल खोलने की सरकार की योजना के तहत दो स्कूलों की भी पहचान की है. इनमें गढ़वाल मंडल में देहरादून का राजीव नवोदय विद्यालय है।

जबकि कुमाऊं संभाग में रुद्रपुर केएएन झा इंटर कॉलेज का चयन हुआ है। दोनों स्कूलों को मैदानी जिलों में बनाने के प्रस्ताव पर सवाल उठ रहे थे. अब सरकार ने भूमि की उपलब्धता के आधार पर पहाड़ी जिलों में भी 2 सैनिक स्कूल खोलने का निर्णय लिया है।

उनका प्रस्ता तैयार कर केंद्र सरकार को भेजा जाएगा।जबकि कुमाऊं संभाग में रुद्रपुर के एएन झा इंटर कॉलेज का चयन हुआ है। दोनों स्कूलों को मैदानी जिलों में बनाने के प्रस्ताव पर सवाल उठ रहे थे।

अब सरकार ने भूमि की उपलब्धता के आधार पर पहाड़ी जिलों में भी 2 सैनिक स्कूल खोलने का निर्णय लिया है. उनका प्रस्ताव तैयार कर केंद्र सरकार को भेजा जाएगा।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news