Breaking News
Home / देहरादून न्यूज़ / जीवनसाथी को जाते देख फूट-फूट कर रो पड़ीं पत्नी शिखा , राजू श्रीवास्तव को नम आंखों से दी गई विदाई….

जीवनसाथी को जाते देख फूट-फूट कर रो पड़ीं पत्नी शिखा , राजू श्रीवास्तव को नम आंखों से दी गई विदाई….

राजू श्रीवास्तव के भाई दीपू श्रीवास्तव ने बताया कि, पूर्वाह्न करीब 11 बजे श्रीवास्तव का हिंदू रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार किया गया. उनके बेटे आयुष्मान ने उन्हें मुखाग्नि दी. उन्होंने कहा, ‘‘ हम सुबह करीब नौ बजे द्वारका से निकले थे. कानपुर और लखनऊ से हमारे परिवार वाले यहां पहुंच गए हैं । प्रख्यात हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव का बृहस्पतिवार को यहां परिवार व करीबी दोस्तों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया. श्रीवास्तव के पार्थिव शरीर को बुधवार उनके परिवार को सौंपे जाने के बाद दक्षिण-पश्चिम दिल्ली में द्वारका स्थित उनके घर पर ले जाया गया था. आज वहां से सफेद फूलों से सजी एक एम्बुलेंस सुबह करीब नौ बजे कश्मीरी गेट स्थित निगमबोध श्मशान घाट के लिए रवाना हुई. पूरा देश उन्हें नम आंखों से विदाई दे रहा है । उनकी पत्नी शिखा श्रीवास्तव अपने जीवनसाथी को हमेशा के लिए जाते देख खुद को संभाल नहीं पा रही थीं. वो फूट फूट कर रो पड़ी. राजू श्रीवास्तव (58) 40 दिन से अधिक समय से अस्पताल में भर्ती थे. दिल्ली के एक होटल में व्यायाम करते समय 10 अगस्त को उन्हें दिल का दौरा पड़ा था । हास्य कलाकार के भाई दीपू श्रीवास्तव ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि पूर्वाह्न करीब 11 बजे श्रीवास्तव का हिंदू रीति-रिवाज से अंतिम संस्कार किया गया. उनके बेटे आयुष्मान ने उन्हें मुखाग्नि दी. उन्होंने कहा, ‘‘ हम सुबह करीब नौ बजे द्वारका से निकले थे. कानपुर और लखनऊ से हमारे परिवार वाले यहां पहुंच गए हैं ।

घाट पहुंचीं राजू की पत्नी, आंखों में दिखे आंसू

राजू की पत्नी की तस्वीर सामने आई है. फोटो में आप देख सकते हैं कि शिखा के चेहरे पर राजू को खोने का गम साफ दिख रहा है. राजू की पत्नी की आंखों में आंसू और चेहरे पर मायूसी देखकर किसी का भी दिल टूट सकता है. एक दूसरे पर जान छिड़कने वाले राजू और शिखा की जोड़ी टूट गई है. राजू के जाने से उनकी पत्नी अकेली हो गई हैं. लेकिन किस्मत को शायद यही मंजूर था । राजू के निधन के बारे में बात करते हुए बीते दिन उनकी पत्नी ने कहा था- मैं अभी बात करने की हालत में नहीं हूं. मैं अब क्या कह सकती हूं. उन्होंने बहुत संघर्ष किया. मैं प्रार्थना कर रही थी और मुझे उम्मीद थी कि वो इससे बाहर आ जाएंगे. लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. मैं बस इतना ही कह सकती हूं कि वो एक सच्चे फाइटर थे । राजू श्रीवास्तव अपनी पत्नी से बेपनाह प्यार करते थे. दोनों की लव स्टोरी किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं थी. राजू ने पत्नी का दिल जीतने के लिए करीब 12 साल का लंबा इंतजार किया था. दरअसल, राजू ने अपने भाई की शादी में पहली बार पत्नी को देखा था और देखते ही दिल दे बैठे थे. उन्होंने तभी फैसला कर लिया था कि शादी करेंगे तो शिखा से ही करेंगे. राजू खुद तो प्यार का इजहार करने की हिम्मत नहीं कर पाए थे इसलिए घरवालों के जरिए रिश्ता भिजवाया था । फिर इस तरह राजू की लव स्टोरी मुकम्मल हुई और 1993 में उनकी शिखा से शादी हो गई. लेकिन अब इन दो प्यार करने वालों की जोड़ी टूट गई. राजू के जाने के बाद शिखा अकेली हो गई हैं । राजू श्रीवास्तव को आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर अंतिम विदाई दी जाएगी. वे हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह देंगे. राजू की अंतिम विदाई देने पत्नी पहुंच चुकी हैं. कॉमेडियन के परिवार समेत उनके तमाम चाहनेवाले भी घाट पहुंच रहे हैं और नम आंखों से अपने फेवरेट कॉमेडियन को अंतिम विदाई दे रहे है ।

भाई को अंतिम विदाई देने नहीं पहुंच सगा भाई काजू

आपको बता दें कि जहां अपने चहेते कॉमेडियन को अंतिम विदाई देने बड़ी संख्या में फैन्स और सेलेब्स पहुंचे वहीं, राजू श्रीवास्तव का भाई काजू श्रीवास्तव इस मौके पर मौजूद नहीं हो सके। दरअसल, काजू अभी कानपुर में है और बीमार हैं वहीं, उनकी पत्नी प्रेग्नेंट है। बता दें कि काजू भी कुछ दिनों के लिए एम्स में इलाज कराने के लिए भर्ती हुए थे और बाद में वह कानपुर रवाना हो गए थे। खबरों की मानें तो काजू के कानपुर वाले घर के बाहर भी बड़ी संख्या में फैन्स शोक व्यक्त करने पहुंचे। कुछ ने काजू से मिलकर संवेदनाएं भी व्यक्त की। राजू श्रीवास्तव के जिगरी दोस्त एहसान कुरैशी और सुनील पाल भी शमशान घाट पहुंचे हैं। दोनों की ही आंखे नम नजर आई। इस दौरान मीडिया से बात करते वक्त सुनील रोने लगे तो एहसान भी अपने आंसू नहीं रोक पाए। सुनील ने कहा- राजू भाई हमारे दिलों में हमेशा रहेंगे। वो हमारे टीचर थे। इस मौके पर डायरेक्टर मधुर भंडारकर भी नजर आए।

 

About ads