Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / छुट्टी पर आये सैनिक की घर में संदिघ्द परस्थिति में मौत, सैनिक सम्मान के साथ विदाई

छुट्टी पर आये सैनिक की घर में संदिघ्द परस्थिति में मौत, सैनिक सम्मान के साथ विदाई

हल्द्वानी से एक दिल दहला देने वाली खबर आ रही है। यहां सेना में सूबेदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। सूबेदार त्रिलोक सिंह कार्की 45 वर्ष के थे, वे महार रेजिमेंट शाहजहांपुर में तैनात थे।

 

9 दिन पहले सूबेदार त्रिलोक सिंह कार्की ने अपने घर का दौरा किया था। हालांकि उसे नहीं लगता था कि यह उसकी पारिवारिक छुट्टी होगी। दुर्भाग्य से ये छुट्टियां त्रिलोक के जीवन की आखिरी छुट्टियां बन गईं। वह पिछले दिन तीसरी मंजिल पर अचेत अवस्था में मिला था।

उसे इस हालत में पाकर परिजन उसे तुरंत अस्पताल ले गए, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। उनके गृहनगर में सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। त्रिलोक सिंह कार्की पुत्र स्व. दिलीप सिंह कार्की गोविंदपुर गढ़वाल कमलुवगांजा इलाके में रहते थे। वह साल 1994 में महार रेजीमेंट में भर्ती हुए थे। हाल ही में उन्हें शाहजहांपुर में सूबेदार के पद पर तैनात किया गया था।

पुलिस विभाग में तैनात मृतक के भतीजे विजय सिंह कार्की ने बताया कि उसका चाचा छह सितंबर को छुट्टी पर घर आया था. बुधवार की सुबह पांच बजे वह अपने कुत्ते को लेकर घूमने निकला था. इसके बाद वह घर आया और निर्माणाधीन तीसरी मंजिल पर चला गया।

लेकिन काफी देर तक जब वह नीचे नहीं आया तो घर के लोग ऊपरी मंजिल पर उसकी तलाश करने गए। जहां त्रिलोक सिंह कार्की बेहोश पड़े थे. उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस के मुताबिक परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम नहीं कराया।

उनका अंतिम संस्कार बुधवार को ही रानीबाग के चित्रशिला घाट पर सैन्य सम्मान के साथ किया गया। सूबेदार त्रिलोक सिंह कार्की के परिवार में पत्नी हेमा कार्की, पुत्री मनीषा और पुत्र हिमांशु हैं।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news