Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड का एक और जवान लेह में शहीद, परिवार में मचा कोहराम

उत्तराखंड का एक और जवान लेह में शहीद, परिवार में मचा कोहराम

देवभूमि के एक और वीर ने देश के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। सेना के जवान का नाम धर्मेंद्र गंगवार था जो ड्यूटी के दौरान शहीद हुए थे। उनकी मौत की खबर जब से घर पहुंची तब से घर और गांव में कोहराम मच गया है. परिवार का हाल बेहाल है। धर्मेंद्र गंगवार लेह में तैनात थे, जहां ड्यूटी के दौरान उनकी मौत हो गई। जवान की मौत की खबर से गांव में मातम छा गया।

नैनीताल के भारतीय सैनिक की लेह में हार्ट अटैक से मौत

जवान धर्मेंद्र गंगवार का परिवार नैनीताल जिले के लालकुआं में रहता है. बताया जा रहा है कि मौत का कारण हार्ट अटैक है। धर्मेंद्र गंगवार मई 2003 में हल्द्वानी एएमई कोर सेंटर से भारतीय सेना में शामिल हुए थे। उन्होंने मीरा गंगवार, बड़े बेटे आर्यन और छोटे बेटे युग से शादी की है। बड़ा बेटा 11 साल का है और पांचवीं कक्षा में पढ़ता है, जबकि छोटा बेटा युग महज 7 साल का है।

दुख की बात है कि इन दो मासूमों के सिर से पिता का साया उठ गया। खबर मिलने के बाद घर में हर तरफ चीख-पुकार सुनाई दे रही है, जिससे दोनों बच्चे गायब हैं। बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र गंगवार का परिवार लालकुआं के वार्ड नंबर-2 गांधीनगर में रहता है।

वह भारतीय सेना के एएमई विभाग में तैनात थे। इन दिनों उनकी ड्यूटी लेह में थी। धर्मेंद्र ने जल्द घर लौटने का वादा किया था, लेकिन अफसोस वह जिंदा नहीं लौट सका। बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र गंगवार को शुक्रवार की रात ड्यूटी के दौरान दिल का दौरा पड़ा था।

बताया जा रहा है कि धर्मेंद्र गंगवार के साथियों को उन्हें अस्पताल ले जाने का भी समय नहीं मिला, इससे पहले उनकी मौत हो गई।

मृतक जवान के पार्थिव शरीर को लालकुआं लाया जाएगा। सबसे पहले पार्थिव शरीर पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचेगा। इसके बाद पार्थिव शरीर को घर लाया जाएगा, जहां अंतिम दर्शन के बाद जवान धर्मेंद्र गंगवार को सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news