Breaking News
Home / हल्द्वानी न्यूज़ / हल्द्वानी के प्रोफेसर ने कब्स में 25 लाख के साथ जीता अमिताभ का दिल, अमिताभ ने खोले अपने बीते दिन के राज़

हल्द्वानी के प्रोफेसर ने कब्स में 25 लाख के साथ जीता अमिताभ का दिल, अमिताभ ने खोले अपने बीते दिन के राज़

‘कौन बनेगा करोड़पति’ एक भारतीय रियलिटी शो है जो कई लोगों के करोड़पति बनने के सपने को पूरा करने के लिए जिम्मेदार है। यह शो काफी लंबे समय से सफलतापूर्वक चल रहा है और अब यह शो इस शो के 14वें सीजन में है।

50 लाख के सवाल पर आकर अटक प्रशांत

गुरुवार को उत्तराखंड के एक शिक्षक प्रो. प्रशांत शर्मा को सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से मिलने और उनके साथ कौन बनेगा क्रीरपति खेलने का मौका मिला। प्रशांत 44 वर्षीय प्रो. प्रशांत शर्मा आम्रपाली संस्थान, हल्द्वानी में होटल प्रबंधन के डीन और शिक्षक हैं।

 

प्रशांत ने शो में 25 लाख रुपये की इनामी राशि जीती। 50 लाख रुपये में वह सवाल का जवाब नहीं दे पाए। जिस प्रश्न पर वह फंस गया वह था, किर्गिस्तान के लिए ट्यूलिप, मिस्र के लिए कमल और यूक्रेन के लिए नारंगी का क्या मतलब है? विकल्पों में ए – क्रांतियों के नाम, बी – राष्ट्रीय ध्वज पर वस्तुएं, सी – राष्ट्रीय प्रतीक, डी – सत्तारूढ़ दल का प्रतीक थे।

प्रशांत को इस सवाल का जवाब नहीं पता था और उनके पास कोई जीवन रेखा नहीं बची थी, जिसके चलते उन्होंने शो छोड़ने का फैसला किया। इस तरह प्रशांत 25 लाख रुपये जीतकर शो से बाहर हो गए।

प्रशांत ने बताया कि साल 2000 से वह इस शो की तैयारी कर रहे थे, उस समय प्रतिभागी बनने के साधन बहुत कम थे लेकिन अब उन्हें मौका मिल गया और अब उन्हें शो में आने का मौका मिल गया है। उन्होंने बताया कि इस शो को करने में उन्हें काफी मजा आया।

अमिताभ ने भी सुनाए अपनी ज़िन्दगी और नैनीताल में बिताए पल

साथ ही अभिनेता अमिताभ बच्चन के साथ कई खास यादें भी ताजा कीं, अभिनेता अमिताभ बच्चन ने प्रशांत से नैनीताल से जुड़ी बातें याद करते हुए मजेदार और दिलचस्प खुलासे किए। अमिताभ बच्चन ने बताया कि नैनीताल में पढ़ाई के दौरान उन्होंने कुछ शरारतें भी कीं।

अमिताभ भी अपनी जिंदगी और नैनीताल के कई किस्से शेयर करते हैं। अमिताभ बच्चन ने अपने पसंदीदा रेस्टोरेंट के बारे में बात करते हुए कहा कि उस समय रोटी के साथ पकोड़ा बहुत अच्छा हुआ करता था, जहां हमारे कॉलेज का रास्ता जाता था।

आलू की सब्जी खाने के लिए हम दीवार पर चढ़ जाते थे। हमारे लिए बाउंड्री वॉल से बचना बहुत आसान था, क्योंकि हमारे स्कूल के बगल में लड़कियों का स्कूल था और हम उन्हें देखने के लिए हमेशा दीवार पर चढ़ते थे। समर्थक। प्रशांत के नैनीताल से आने की खबर सुनकर बिग बी बहुत खुश हुए। उन्होंने कहा कि यह जगह उनके दिल के बेहद करीब रही है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news