Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / रानीखेत अग्निवीर भर्ती परीक्षा में बड़ा फर्जीवाड़ा, U.P. से अमित बनकर आया ताहिर खान

रानीखेत अग्निवीर भर्ती परीक्षा में बड़ा फर्जीवाड़ा, U.P. से अमित बनकर आया ताहिर खान

रानीखेत से एक बड़ी खबर आ रही है जहां रानीखेत में अग्निवीर की भर्ती के लिए रैली हो रही है, यहां एक जालसाज पकड़ा गया जो जाली दस्तावेज लेकर आया और अपना धर्म और नाम बदलकर फर्जी दस्तावेज जमा कर दिया।

 

नकली दस्तावेज़ से ऐसे पकड़ा गया फर्जीवाड़े में

अमित बनकर आया लड़का अग्निवीर भर्ती के लिए फर्जी दस्तावेज बनाने के आरोपी ताहिर खान समेत उसकी मदद करने वाले सीएससी सेंटर संचालक के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। 15 अगस्त को आरोपी ने जाली तरीके से दस्तावेज तैयार किए थे।

बुलंदशहर निवासी ताहिर खान ने 15 अगस्त को अपनी सरकार पोर्टल से ऑनलाइन आवेदन किया था, जिसमें ताहिर ने राशन कार्ड, बिजली बिल और आधार कार्ड अटैच किया था।

ये आवश्यक दस्तावेज हैं क्योंकि इन्हीं प्रमाणपत्रों के आधार पर भर्ती प्रक्रिया की जाएगी। गड़बड़ी का पता चलने पर प्रमाण पत्रों की जांच की गई। तब पता चला कि संलग्न दस्तावेज अमित नाम का फर्जीवाड़ा कर अपलोड किए गए हैं।

इसमें सीएससी के निदेशक नासिर ने भी धांधली में सहयोग किया। प्रमाण पत्र ऑनलाइन सत्यापन में अपलोड किए गए दस्तावेजों के आधार पर जारी किए गए थे।

पुलिस ने आरोपी सीएससी निदेशक नासिर अली और बुलंदशहर निवासी ताहिर खान के खिलाफ धोखाधड़ी, जाली दस्तावेज तैयार करने जैसी विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। भारतीय सेना के कुमाऊं रेजिमेंटल सेंटर (KRC) मुख्यालय में अग्निवीर सैनिक भर्ती में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक युवक की गिरफ्तारी के बाद सेना और पुलिस की खुफिया जानकारी भी अलर्ट पर है।

ताहीर और CSC सेंटर वाले के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमे

अब खुफिया विभाग ने एक-एक उम्मीदवार के बारे में काफी जानकारी जुटा ली है ताकि संदिग्ध युवक फर्जी प्रमाण पत्र के साथ सेना का हिस्सा न बनें और भविष्य में देश की सुरक्षा के लिए खतरा बन जाएं।

साथ ही यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि क्या इसके पीछे देश विरोधी संगठन हैं, जो युवाओं के कंधों पर बंदूक रखकर देश की सुरक्षा में सेंध लगाने की साजिश रच रहे हैं।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news