Breaking News
Home / बॉलीवुड / अर्जुन रामपाल के बाद डार्लिंग एक्टर विजय वर्मा ने बॉयकॉट ट्रेंड पर बोला, कहा- सिर से ऊपर बह रहा हैं पानी

अर्जुन रामपाल के बाद डार्लिंग एक्टर विजय वर्मा ने बॉयकॉट ट्रेंड पर बोला, कहा- सिर से ऊपर बह रहा हैं पानी

बॉलीवुड बॉयकॉट का चलन बॉलीवुड फिल्मों के खिलाफ सोशल मीडिया पर आग की तरह गर्मी बढ़ा रहा है, लोग लगभग हर फिल्म के बहिष्कार के विभिन्न कारण साझा कर रहे हैं। हाल ही में आमिर खान की ‘लाल सिंह चड्ढा’ और अक्षय कुमार की रक्षाबंधन इसका शिकार हुई हैं। दोनों फिल्म की अवधारणा अच्छी है और यह पारिवारिक फिल्म है। इसका सीधा असर बॉक्स ऑफिस पर पड़ा है। यहां तक ​​कि जो फिल्में अभी रिलीज नहीं हुई हैं, वे भी इस ‘बॉयकॉट ट्रेंड’ की चपेट में आ गई हैं।

लाल सिंह चड्ढा के फ्लॉप होने से सभी कलाकार सकते में

शाहरुख खान की ‘पठान’, विजय देवरकोंडा की ‘लिगर’, ऋतिक रोशन की ‘विक्रम वेधा’ जैसी फिल्में इस ट्रेंड में शामिल हैं। ‘बॉलीवुड बॉयकॉट’ का यह चलन फिल्म इंडस्ट्री को भी परेशान कर रहा है। इस मुद्दे पर सबका अपना-अपना नजरिया है।

हाल ही में अर्जुन कपूर ने इस पर बॉयकॉट पर बात की और कहा कि हमारी चुप्पी हमारे लिए शर्म की बात थी लेकिन लोगों ने इसे कमजोरी समझ लिया। वहीं हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘डार्लिंग्स’ के अभिनेता विजय वर्मा ने इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया दी।

उन्होंने कहा कि ‘बाॅयकट संस्कृति’ बहुत डरावनी है और कहा कि अब पानी सिर के ऊपर से बह रहा है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि आपने 10 साल पहले जो कहा वह आपत्तिजनक हो सकता था और कुछ लोगों ने उस पर प्रतिक्रिया दी। हो सकता है कि यह उस समय एक लोकप्रिय प्रथा रही हो, लेकिन आज के समय में यह नहीं है। मुझे लगता है कि आपको इस तरह रद्द नहीं किया जा सकता।’

अब शाहरुख और रितिक पर है सबकी नजर

विजय ने आगे कहा- ‘अगर उन्होंने खुद को शिक्षित नहीं किया होता और वर्तमान समय के साथ तालमेल नहीं बिठाया होता, तो क्या हम उसके साथ इतने बुरे हो जाते और उसे असभ्य तरीके से रद्द कर देते। ये ऐसे विचार हैं जिनके बारे में मैं सोचता रहता हूं।

मेरे पास वाकई कोई जवाब नहीं है। मुझे लगता है कि शिक्षा और समय को पकड़ना बहुत जरूरी है। लेकिन समय और रुझान बहुत तेजी से बदल रहे हैं। एक कॉमेडियन जिसने 10 साल पहले कुछ कहा होगा, क्या वो लाइनें इस बार वापस आ सकती हैं।’

About Vaibhav Patwal

Haldwani news