Breaking News
Home / अजब गज़ब / राजस्थान के दिव्यांग रवि कुमार ने रचा इतिहास, पैर नहीं करते काम, अब बाहरवीं में पाये 100% मार्क्स

राजस्थान के दिव्यांग रवि कुमार ने रचा इतिहास, पैर नहीं करते काम, अब बाहरवीं में पाये 100% मार्क्स

कहा जाता है कि अगर इंसान कुछ करने की ठान ले तो उसके लिए कुछ भी असंभव नहीं है। इस बात को राजस्थान के दौसा जिले के दिव्यांग रवि कुमार मीणा ने सच साबित किया है. रवि बचपन से ही शारीरिक अक्षमता से जूझ रहे हैं और उन्होंने जो उपलब्धि हासिल की है, वह कई धनी लोगों के लिए एक सपने की तरह है।

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान ने शनिवार को विकलांग और बधिर छात्रों का 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है। इस परिणाम में दौसा के रवि कुमार मीणा ने 12वीं बोर्ड के आर्ट्स सेक्शन में वो कर दिखाया है, जिसे देखकर हर कोई हैरान है. दौसा जिले के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गंधरावा में पढ़ने वाले रवि कुमार मीणा ने परीक्षा में शत-प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। रवि ने अनिवार्य हिंदी और अंग्रेजी के साथ राजनीति विज्ञान, इतिहास और भूगोल विषयों में 100 में से 100 अंक हासिल किए हैं।

रवि अपने दोनों पैरों से विकलांग है। भले ही उसके पैर नहीं हैं, लेकिन उसका साहस और जज्बा अद्भुत है। इसी जज्बे के दम पर रवि रोज स्कूल जाते थे, स्कूल का एक भी दिन नहीं छोड़ते थे। वह स्कूल जाने के लिए ट्राइसाइकिल का इस्तेमाल करता था। रवि की पढ़ाई सिर्फ स्कूल तक ही सीमित नहीं थी, इसके अलावा वह रोजाना 6 से 8 घंटे नियमित रूप से पढ़ाई करते रहे हैं।

अब रवि को अपनी मेहनत का ऐसा बेहतरीन परिणाम मिला है कि हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है. उन्होंने अपनी मेहनत के दम पर 12वीं बोर्ड आर्ट्स में 100 में से 100 फीसदी अंक हासिल किए हैं। उनकी इस सफलता के बाद उनका पूरा परिवार और उन्हें जानने वाले खुशी से झूम उठे। अब उनके घर पर उन्हें बधाई देने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रवि के परीक्षा परिणाम ने स्कूल के शिक्षकों से लेकर पूरे गांव के लोगों को हैरान कर दिया है।

अब उनके परिचितों और स्कूल के प्रिंसिपल समेत कई लोग उनके घर आ रहे हैं और उनके अच्छे होने की कामना कर रहे हैं. इतना ही नहीं जिले के शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने भी रवि कुमार मीणा को बधाई देते हुए कहा है, ‘रवि ने पूरे दौसा जिले का नाम रोशन किया है।’

About Vaibhav Patwal

Haldwani news