Breaking News
Home / अजब गज़ब / इस तिमाही में भी गिर रहे सोने चांदी के दाम, दोनों की खरीदारी में हुआ 43% तक का इजाफा

इस तिमाही में भी गिर रहे सोने चांदी के दाम, दोनों की खरीदारी में हुआ 43% तक का इजाफा

भारत में हर कोई सोने का शौकीन होता है खासकर महिलाओं को। वे इस हद तक सोना पसंद करते हैं कि भारत में गहनों के रूप में दुनिया में सबसे ज्यादा सोना है। सोने-चांदी पर सबकी निगाहें हैं, आज कल सोने को असली मुद्रा माना जाता है। उस जमाने में जब मुद्रा का प्रचलन नहीं था, उस समय भी मुद्रा के रूप में सोने का प्रयोग होता था। हाल ही में सोने-चांदी के रेट में भारी गिरावट देखने को मिली थी। चांदी में भारी गिरावट रही। चांदी भी गिरकर 55000 रुपये प्रति किलो पर आ गई थी।

वहीं, सोने की कीमत अभी भी स्थिर बनी हुई है। सोना अभी भी 50,000 रुपये के आसपास कारोबार कर रहा था। हालांकि एक समय यह ₹55000 को भी पार कर गया था। ऐसे में जब सोने के भाव ₹50000 के आसपास दिखाई दिए तो लोगों ने आनन-फानन में आभूषण और सोना खरीदना शुरू कर दिया। अब यह खरीदारी कई समारोहों जैसे शादियों और अन्य चीजों के लिए की जा सकती है और निवेश के रूप में भी हो सकती है।

हालांकि, अचानक आज सोने-चांदी की कीमतों में भारी उछाल देखने को मिला है। जहां चांदी ₹2000 प्रति किलो हजार पर कारोबार कर रही है। वहीं, सोने में भी ₹1000 प्रति 10 ग्राम का भाव बढ़ा है! यानी सोना ₹51000 प्रति 10 ग्राम के आसपास कारोबार कर रहा है। अगर कुछ समय के लिए आंकड़ों की तुलना की जाए तो हम देख सकते हैं कि इस समय जो आंकड़े सामने आए हैं उनमें 43 फीसदी से ज्यादा सोना खरीदा गया है।

कारण अलग-अलग बताए जा रहे हैं। कुछ लोगों का मानना ​​है कि आर्थिक मंदी की आशंका में लोग सोने में निवेश करते हैं। इसलिए लोग सोने में भारी निवेश कर रहे हैं। कुछ लोगों का यह भी मानना ​​है कि दरों में मामूली गिरावट से सोने में खरीदारी भी खूब हुई है। जानकारों के मुताबिक सोना स्थिर रहेगा। जबकि चांदी में मामूली मंदी रहने की उम्मीद है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news