Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / किस दिन मनाये रक्षा बंधन 11 को या 12 को, क्या है राखी बांधने का शुभ मूहर्त: जानिए मुहूर्त का महत्व

किस दिन मनाये रक्षा बंधन 11 को या 12 को, क्या है राखी बांधने का शुभ मूहर्त: जानिए मुहूर्त का महत्व

इस साल सवाल है कि रक्षाबंधन कब मनाया जाएगा, 11 अगस्त को है या 12 अगस्त को। 24 साल बाद रक्षाबंधन पर ऐसा दुर्लभ संयोग बना है। रक्षाबंधन के दिन अमृत योग बन रहा है। इस दौरान आप भाई की कलाई पर राखी बांध सकते हैं। रक्षाबंधन के दिन थाली में रोली, चंदन, अक्षत, दही, रक्षासूत्र और मिठाई रखें. साथ ही घी का दीपक जलाएं जिससे भाई की कलाई पर राखी बांधी जा सके, जिससे भाई की आरती की जाएगी।

रक्षाबंधन का पर्व हमेशा श्रावण शुक्ल पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। इस वर्ष पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त को प्रातः 10.38 बजे से प्रारंभ होकर 12 अगस्त को प्रातः 07:05 बजे समाप्त होगी। लेकिन रक्षाबंधन का पर्व 11 अगस्त गुरुवार को ही मनाया जाएगा. ज्योतिष शास्त्र के जानकारों का कहना है कि इस साल रक्षाबंधन का पर्व बेहद शुभ योग में मनाया जाएगा. इस दुर्लभ घटना के कारण रक्षाबंधन का पर्व और भी खास होने वाला है।

इस दिन सबसे पहले रक्षा सूत्र और पूजा की थाली भगवान को समर्पित करें। इसके बाद भाई को पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके बैठाएं। पहले भाई को तिलक करें, फिर रक्षासूत्र बांधकर आरती करें। कहा जाता है कि पूर्व या उत्तर दिशा में भाई की ओर मुंह करके राखी बांधने से उस पर आने वाली परेशानियां टल जाती हैं।

इसके बाद बहनें भाई को मिठाई खिलाकर शुभकामनाएं देंगी। रक्षासूत्र बांधते समय भाई-बहन का सिर खुला नहीं होना चाहिए। रक्षा बंधन मिलने के बाद दोनों माता-पिता और गुरु का आशीर्वाद ले सकते हैं और उसके बाद बहन को उसकी क्षमता के अनुसार उपहार दे सकते हैं। उपहार में ऐसी वस्तु दें जो दोनों के लिए शुभ हो। गहरे रंग के कपड़े, नुकीली चीजें या नुकीली या नमकीन चीजें देने से बचें।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news