Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / टिहरी के युवा ने किया देश का नाम रोशन, संसाधनों की कमी के बावजूद नीदरलैंड में बना रेसेअर्चेर

टिहरी के युवा ने किया देश का नाम रोशन, संसाधनों की कमी के बावजूद नीदरलैंड में बना रेसेअर्चेर

सरकारी स्कूलों में बच्चों को दी जाने वाली शिक्षा के स्तर पर समय-समय पर सवाल उठते रहते हैं। हर कोई सोचता है कि हिंदी माध्यम के स्कूलों में पढ़ने के बाद उनका बच्चा सफलता की दौड़ में पीछे छूट जाएगा, लेकिन उत्तराखंड में एक मामले ने इसे गलत साबित कर दिया है। उन्होंने दिखाया था कि कड़ी मेहनत और इच्छाशक्ति से हर चुनौती को पार करके सफलता हासिल की जा सकती है। टिहरी के शैलेंद्र शाह ने यूरोपीय देश (नीदरलैंड) में एक शोधकर्ता के रूप में चयनित होकर इस तथ्य को सच कर दिया है। शैलेंद्र टिहरी से टिहरी गढ़वाल के विकास खंड भिलंगना अंतर्गत बुढाकेदार क्षेत्र।

उनकी प्रारंभिक शिक्षा प्राथमिक विद्यालय सौला में पूरी हुई। बाद में उन्होंने राजकीय इंटर कॉलेज विनयखल से हाई स्कूल और नवोदय विद्यालय से इंटर स्कूल किया। स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद, उन्होंने एनआईटी श्रीनगर गढ़वाल से बीटेक कोर्स और आईआईटी दिल्ली से एमटेक में दाखिला लिया। शैलेंद्र के पिता लोकेंद्र शाह प्राथमिक विद्यालय खवारा बसर में प्रधानाध्यापक के पद पर कार्यरत हैं। जबकि उनकी मां रामेश्वरी देवी शाह गृहिणी हैं।

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद शैलेंद्र को नीदरलैंड के वैगनिंगेन विश्वविद्यालय में पर्यावरण विज्ञान में पीएचडी करने का अवसर मिला, यह पूरे राज्य के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। वह वहां अनुसंधान वैज्ञानिक के रूप में काम करेंगे। इस पद के लिए हजारों युवाओं ने आवेदन किया था। शैलेंद्र को विभिन्न परीक्षाओं और साक्षात्कारों से भी गुजरना पड़ा।

कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच हजारों युवाओं के बीच शैलेंद्र का पीएचडी के लिए चयन हो गया। इस उपलब्धि के बाद उनकी इस उपलब्धि से उनके परिवार और जिले में खुशी की लहर है। ग्रामीणों ने युवा शैलेंद्र की उपलब्धि को क्षेत्र के लिए गर्व का क्षण बताया है क्योंकि उन्हें यह मौका सबसे पहले मिला था। उनकी सफलता पहाड़ के अन्य युवाओं को भी आगे बढ़ने का रास्ता दिखाएगी और दिखाया कि एक कदम पीछे नहीं हटना चाहिए, यहां तक ​​​​कि संसाधन भी दुर्लभ हैं, इसके लिए उन्हें लड़ना चाहिए और सफलता आज नहीं बल्कि एक दिन उनकी होगी।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news