Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / रुद्रप्रयाग के डीएम ने छोड़ि सरकारी गाडी टिकट लेकर बस से पहुंचे दफ्तर, स्कूल में बच्चों के साथ खाया मिड डे मील

रुद्रप्रयाग के डीएम ने छोड़ि सरकारी गाडी टिकट लेकर बस से पहुंचे दफ्तर, स्कूल में बच्चों के साथ खाया मिड डे मील

सरकारी अधिकारी बनना हर व्यक्ति का सपना होता है, क्योंकि यह सिर्फ एक पद नहीं, बल्कि एक जिम्मेदारी है। हालांकि आम जनता की नजर में सरकारी सेवकों की छवि अच्छी नहीं है, लेकिन लोग अधिकारियों से मिलने से डरते हैं क्योंकि इसमें बहुत समय लगता है। लेकिन उत्तराखंड में कई ऐसे अधिकारी हैं, जो जनता तक पहुंचकर नौकरशाही की नकारात्मक छवि को बदलने की कोशिश कर रहे हैं। जैसे रुद्रप्रयाग के डीएम मयूर दीक्षित ऐसे ही एक अधिकारी हैं। बीते दिन वह अधिकारियों के साथ एक बस में सवार होकर बहुउद्देश्यीय शिविर में शामिल हुए।

जिलाधिकारी की इस अभिनव पहल से समय और सरकारी धन की बचत हुई, सभी विभागीय अधिकारी एक साथ शिविर में पहुंचे। इस घटना को देख डीएम को बस में देख स्थानीय लोग दंग रह गए। शिविर में पहुंचकर उन्होंने गुणवत्ता जांचने के लिए स्कूल में बच्चों के साथ मध्याह्न भोजन भी किया। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित अभिनव पहल करने के लिए जाने जाते हैं। गुरुवार को उन्होंने सरकारी खर्च को कम करने और विभागीय अधिकारियों के बीच आपसी समन्वय को बढ़ावा देने में बहुत अच्छा काम किया।

डीएम मयूर दीक्षित के साथ सीडीओ नरेश कुमार, डीडीओ मनविंदर कौर, मुख्य शिक्षा अधिकारी यशवंत सिंह चौधरी और कृषि, बागवानी, जल संस्थान, जलनिगम, एलएनवी, पीएमजीएसवाई सहित अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे। इस पर शिविर में 34 शिकायतें दर्ज की गईं, जिनका मौके पर समाधान किया गया। शिविर के बाद डीएम ने उच्च प्राथमिक विद्यालय पाली-फफंज का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने स्कूली बच्चों के साथ लंच भी किया।

डीएम ने बच्चों से बातचीत करते हुए स्कूल के बारे में जानकारी ली. इस मौके पर डीएम मयूर दीक्षित ने कहा कि सरकार, जनता के द्वार पर कार्यक्रम तभी फलदायी होगा जब सभी अधिकारी एक साथ जनता तक पहुंचें। जब सभी जिम्मेदार अधिकारी तहसील, बीडीसी, जनता दरबार पहुंचेंगे, तो उनके संबंधित विभागीय वाहनों के बजाय एक वाहन में सवार होकर बहुउद्देश्यीय शिविर का आयोजन किया गया, इससे सरकारी खर्च कम होगा, साथ ही समन्वय भी बेहतर होगा।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news