Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / शुरू होने जा रही है कावड़ यात्रा, आने से पहले जान ले नियम

शुरू होने जा रही है कावड़ यात्रा, आने से पहले जान ले नियम

कुछ ही दिनों में सावन का महीना शुरू होने वाला है और हर साल की तरह सावन के महीने में महाशिवरात्रि के मौके पर गंगाजल लेने के लिए कई कावड़ श्रद्धालु उत्तराखंड आएंगे। इसके लिए उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी पूरी तरह से तैयार हैं, इसके लिए बुधवार को दमकोठी में कांवड़ यात्रा के प्रबंधन को लेकर बैठक हुई थी, इस बार इस सप्ताह 14 जुलाई से यात्रा शुरू की जाएगी। अधिकारियों ने कांवड़ मेला के सफल समापन के लिए अपने सुझाव दिए। इसमें यह निर्णय लिया गया कि अन्य जिलों से हरिद्वार आने वाले शिव भक्तों की सूची तैयार कर सीमावर्ती जिलों में साझा की जाएगी।

इसके अलावा सात फुट से ऊपर के जवार पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है और इस बार कांवड़िये अपना पहचान पत्र साथ लाएंगे। बुधवार को गढ़वाल आयुक्त सुशील कुमार की अध्यक्षता में सीमावर्ती जिलों सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और बिजनौर के जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक हुई।

गढ़वाल आयुक्त ने सीमावर्ती जिलों के अधिकारियों से चर्चा करते हुए कहा कि सभी जिले हरिद्वार की ओर जाने वाले कांवड़ियों की सूची बनाकर सभी सीमावर्ती जिलों के साथ साझा करें। सुरक्षा और भीड़ पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। वहीं, गढ़वाल आयुक्त ने कहा कि कांवड़ की ऊंचाई अधिकतम सात फुट तक होनी चाहिए ताकि यात्रा में कोई परेशानी न हो।

इसके अलावा दुकानों में ऐसी कोई चीज नहीं बिकनी चाहिए, जिसे हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जा सके। हरिद्वार के जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय ने बताया कि 14 जुलाई से 27 जुलाई तक कांवड़ मेला चलेगा। उन्होंने कहा कि इस साल कांवड़ियों की संख्या चार करोड़ हो सकती है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news