Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड में हो राह खुली धांदले बाज़ी, रानीखेत में जीवित आदमी को दिखा दिया 5 साल पहले मृत

उत्तराखंड में हो राह खुली धांदले बाज़ी, रानीखेत में जीवित आदमी को दिखा दिया 5 साल पहले मृत

रानीखेत के तूनाकोट गांव में विभागीय लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है| सरकार इस प्रकार के मामलों से भरी पड़ी है लेकिन हाल ही में एक मामले ने दिखाया है कि लोगों के प्रति ऐसी लापरवाही हो सकती है। यहां पांच साल पहले परिवार के रजिस्टर में गांव के एक किसान को मृत दिखाया गया था| रानीखेत के तुनाकोट गांव में एक जीवित किसान को मृत दिखाने के मामले के बाद से हड़कंप मच गया है।

इससे पता चलता है कि हमारे सरकारी अधिकारी कितने कमजोर हैं और वे क्या करने में सक्षम हैं। स्थानीय लोगों ने इसे बड़ी लापरवाही बताते हुए संबंधित अधिकारी व विभाग के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है| पूरा मामला यह है कि गांव में हरवंश सिंह एक गरीब काश्तकार है जो शांति से अपना जीवन यापन कर रहा था|

हाल ही में जब उन्होंने परिवार के रजिस्टर में इस कारण से देखना चाहा तो वह यह देखकर चौंक गए कि उन्हें पांच साल पहले परिवार रजिस्टर में मृत दिखाया गया है, जिसे महत्वपूर्ण माना जाता है। जब हरवंश सिंह ने किसी जरूरी काम के लिए परिवार रजिस्टर देखने के लिए ग्राम विकास कार्यालय में आवेदन किया तो पांच साल पहले जब उन्हें पता चला कि उनकी मौत हो गई है तो हरवंश के होश उड़ गए|

जब उन्हें पता चला कि फैमिली रजिस्टर में 2017 से ही उनकी मौत हो चुकी है। कहा जा रहा है कि उनकी जन्मतिथि में किसी तरह का अंतर है। स्थानीय लोगों ने इसे जहां लापरवाही को गंभीर समस्या बताया वहीं ग्राम विकास अधिकारी नीता राणा के अनुसार किसान से संशोधन के लिए आवेदन मांगा जा रहा है| जल्द ही परिवार रजिस्टर में सुधार किया जाएगा।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news