Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / 1 KM सड़क के लिए 16 साल से घूम रहे योगी आदित्यनाथ के गुरु, PMO तक पहुंचाए अपनी बात

1 KM सड़क के लिए 16 साल से घूम रहे योगी आदित्यनाथ के गुरु, PMO तक पहुंचाए अपनी बात

मुख्यमंत्री के इतने करीब होने के बाद भी एक शिक्षक अपने शिष्य तक नहीं पहुंच सकता। यही कहानी सीएम योगी आदित्यनाथ के गुरु की है। देश के सबसे बड़े राज्य के मुख्यमंत्री के लिए यह असंभव हो रहा है. हम बात कर रहे हैं पौड़ी गढ़वाल के सिमलू गांव की, जहां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गुरु सत्यप्रसाद बर्थवाल रहते हैं. योगी आदित्यनाथ को जनसेवा का रास्ता दिखाने वाले उस गुरु का गांव आज भी मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहा है. गांव में सड़क नहीं है।

 

ग्रामीण फुटपाथ पर चलते हैं। सत्यप्रसाद ने कई बार सरकार, प्रशासन और यहां तक ​​कि पीएम कार्यालय से भी बड़थवाल गांव में सड़क बनाने की अपील की है, लेकिन कोई नहीं मान रहा है. द्वारिकाल प्रखंड अंतर्गत ऋषिकेश-बद्रीनाथ पैदल मार्ग पर स्थित सिमालू गांव में 10 परिवार निवास करते हैं| वर्ष 2006 में सिमलू गांव से होते हुए महादेवचट्टी तक सड़क बनाने की योजना थी, लेकिन बाद में यह सड़क डाबर गांव तक चली गई।

इस तरह सड़क सिमलू गांव तक नहीं पहुंच पाई। सत्यप्रसाद बर्थवाल का कहना है कि 14 जुलाई 2018 को मुख्य सचिव को सड़क निर्माण के संबंध में आदेश जारी किए गए थे, लेकिन चार साल बाद भी सड़क नहीं बनी है. आपको बता दें कि 3 मई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यमकेश्वर प्रखंड के बिठ्यानी में आयोजित तीन दिवसीय कार्यक्रम में अपने गुरुओं का सम्मान किया|

इनमें सत्यप्रसाद बर्थवाल भी थे। उस समय गुरु ने अपने शिष्य से सिमलू गांव में सड़क बनाने और सिंगताली मोटर पुल का जल्द निर्माण कराने का अनुरोध किया था। उधर, पूरे मामले को लेकर लोक निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता प्रेम सिंह बिष्ट ने कहा कि यह मामला संज्ञान में नहीं है. अगर ऐसा है तो संबंधित कर्मचारी से इसकी जांच कर जानकारी जुटाई जाएगी। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news