Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / 20 रुपये की चाऊमीन के चक्कर में हुआ 100 रुपये का चालान, राज्य में कटे 15000 के चालान

20 रुपये की चाऊमीन के चक्कर में हुआ 100 रुपये का चालान, राज्य में कटे 15000 के चालान

यह सर्वविदित है कि 1 जुलाई से उत्तराखंड में सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है। लेकिन फिर भी कई जगहों पर जागरूकता की कमी के कारण राज्य के कई हिस्सों में सिंगल यूज प्लास्टिक का बोलबाला हो रहा है. ऐसे लोगों के खिलाफ शुक्रवार को देहरादून नगर निगम की टीम ने कार्रवाई की। प्लास्टिक बैन के पहले ही दिन एक युवक के खिलाफ भी कार्रवाई की गई, जो केवल बीस रुपये चाउमीन में पॉलीथिन में ले जा रहा था, यह उसका दुर्भाग्य था कि 20 रुपये के चाउमीन के लिए उसे 100 रुपये का जुर्माना देना होगा।

साथ ही इन बोरियों का प्रयोग करते पकड़े गए डीलरों पर करीब तीन दर्जन व्यक्तियों व व्यापारियों का चालान कर 15,000 रुपये की मोटी रकम वसूल की जाती है. लोगों से सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करने की अपील की गई। केंद्र और राज्य सरकार के निर्देश पर नगर निगम ने पिछले सप्ताह से जागरूकता अभियान शुरू किया है. नगर निगम की ओर से शहर के सभी थोक व्यापारियों को पॉलीथिन और सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए नोटिस भी भेजा गया है.

नगर आयुक्त मनुज गोयल ने बताया कि प्रतिबंधित प्लास्टिक के उपयोग पर निर्माता पर 5 लाख रुपये और ट्रांसपोर्टर पर 2 लाख रुपये का प्रावधान है, जबकि विक्रेता पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. यदि कोई व्यक्ति व्यक्तिगत रूप से पॉलीथिन का प्रयोग करते हुए पकड़ा जाता है तो उस पर एक हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है। दूसरी बार पकड़े जाने पर जुर्माने की राशि दोगुनी हो जाएगी। शुक्रवार को नगर निगम की टीम ने हनुमान चौक समेत तिलक रोड, झंडा बाजार और दर्शनी गेट पर प्लास्टिक के थोक विक्रेताओं से करीब 50 किलो पॉलीथिन एकत्र किया|

राजपुर रोड से मसूरी डायवर्जन और शहर के सभी प्रमुख बाजारों में चेकिंग में पॉलीथिन का प्रयोग करने वालों का चालान कर चालान किया गया. पॉलीथिन पर रोक को लेकर व्यापारियों ने नगर आयुक्त से भी मुलाकात की। उन्होंने मांग की कि पहले व्यापारियों को सरकार के आदेशों की विस्तार से जानकारी दी जाए। इसके बाद मुख्य बाजारों में आपसी तालमेल बनाकर अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि वह पॉलीथिन और सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध के समर्थन में हैं।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news