Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / राज्य में पहले धूप अब बारिश से आफत, चारधाम वाले ध्यान दे आने से पहले ले पूरी जानकारी

राज्य में पहले धूप अब बारिश से आफत, चारधाम वाले ध्यान दे आने से पहले ले पूरी जानकारी

उत्तराखंड में बारिश ने लोगों को चिलचिलाती गर्मी से तो राहत तो दी है लेकिन इससे लोगों की परेशानी भी काफी बढ़ गई है| इस बारिश के कारण कई जगहों पर बिजली कटौती हुई है, शहरी क्षेत्रों में कई जगहों पर जलजमाव की समस्या भी बढ़ गई है और वह भी इस क्षेत्र में मानसून के ठीक से आने से पहले ही। पहाड़ों में भी बारिश और बर्फबारी विशेष रूप से चारधाम जिलों में जारी रही। यहां का मौसम बदल गया है और आने वाले दिनों में शनिवार से करीब 3 से 4 दिन में। मौसम विभाग ने चारधाम समेत कई जिलों में बारिश या भारी बारिश की संभावना जताई है|

अलर्ट के साथ ही कई जगहों पर हल्के भूस्खलन, चट्टान गिरने, सड़क बंद होने की चेतावनी भी जारी की गई है| यह भी बताया गया है कि बारिश के कारण भारी बारिश की संभावना वाले जिलों में नदियों और नालों में भी जल स्तर में वृद्धि होगी| इन सभी समस्याओं को देखते हुए पर्यटन विभाग, उत्तराखंड पुलिस ने तीर्थयात्रियों-पर्यटकों से सतर्क रहने की अपील की है और ऐसा कोई मूर्खतापूर्ण कार्य न करें जिससे उन्हें नुकसान हो। रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, चमोली, उत्तरकाशी, बागेश्वर जिले के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है|

पर्यटन विभाग ने कहा कि जो पर्यटक और तीर्थयात्री उत्तराखंड आ रहे हैं, उन्हें आने से पहले अपना पंजीकरण कराना होगा, और उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) के कंट्रोल रूम के टोल फ्री नंबर 1364 से मौसम और मार्गों की पूरी जानकारी लेनी होगी| या मौसम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट। तापमान में अचानक गिरावट के कारण यह सलाह दी जाती है कि तीर्थयात्रियों को ऊनी कपड़े और छाता, रेनकोट, वाटरप्रूफ ट्रेकिंग शूज़, वॉकिंग स्टिक, टोपी, दस्ताने आदि अपने साथ ले जाने चाहिए। पर्यटन विभाग ने यात्रियों से सतर्क रहने की अपील की है|

वहीं अगर चारधाम यात्रा की बात करें तो इस बार यात्रा सीजन पिछले सीजन का रिकॉर्ड तोड़ने की कगार पर है, इस बार यात्रा की शुरुआत से लेकर अब तक चारों धामों में 21.65 लाख से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं. बद्रीनाथ में 7.55 लाख, केदारनाथ में 7.34 लाख, गंगोत्री में 3.84 लाख, यमुनोत्री में 2.92 लाख तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति ने यात्रियों की संख्या को लेकर रिपोर्ट जारी की है. यात्रा के दौरान तीर्थयात्रियों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को लेकर प्रशासन की ओर से विशेष इंतजाम करने को कहा गया है|

About Vaibhav Patwal

Haldwani news