Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड के मैदानी इलाको में बढ़ेगी गर्मी, तो पहाड़ो में ओलावृष्टि का अलर्ट जारी

उत्तराखंड के मैदानी इलाको में बढ़ेगी गर्मी, तो पहाड़ो में ओलावृष्टि का अलर्ट जारी

मई में प्री-मानसून बारिश ने क्षेत्र में बारिश जारी रखी। समय-समय पर बारिश हो रही है, लेकिन जून का पहला हफ्ता सूखा गुजर रहा है। गुरुवार को राज्य में अधिकतम तापमान ने पिछले दस साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया. बारिश के कारण बढ़ते तापमान से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है, वहीं मौसम विभाग का कहना है कि अगले कुछ दिनों में राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है. मौसम विभाग ने कहा है कि राज्य में सात जून तक लू जारी रहेगी|

इस दौरान राज्य में गरज के साथ छींटे पड़ने की घटनाएं भी हो सकती हैं, ओलावृष्टि भी हो सकती है, इसको लेकर चेतावनी भी जारी की गई है. मौसम केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह के मुताबिक रविवार और सोमवार को पहाड़ी इलाकों में ओलावृष्टि की संभावना है. रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, चमोली जैसे जिलों में बारिश के साथ ओलावृष्टि हो सकती है. जबकि मंगलवार और बुधवार को मैदानी इलाकों में 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चल सकती है।

इस दौरान अगले पांच दिनों तक लू का असर जारी रहने के आसार हैं। बीते दिन देहरादून में अधिकतम तापमान 40.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान 21.0 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है. इसी तरह पंतनगर में अधिकतम तापमान 40.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 20.8 डिग्री सेल्सियस रहा. हरिद्वार में अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 21.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

नई टिहरी में अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 18.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। गुरुवार को भीषण गर्मी से राज्य भर के लोग परेशान रहे। शुक्रवार को पारा में मामूली गिरावट दर्ज की गई, लेकिन इसके बावजूद पारा चढ़ता रहा. चिलचिलाती गर्मी अगले कुछ दिनों तक आपको काफी परेशान करेगी इसलिए गर्मी से दूर रहें। दिन में धूप में बाहर जाने से बचें।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news