Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड में होगा 38वें राष्ट्रीय खेलों का आयोजन, सजने लगे मैदान जंग के लिए तैयार हो रहे खिलाड़ी

उत्तराखंड में होगा 38वें राष्ट्रीय खेलों का आयोजन, सजने लगे मैदान जंग के लिए तैयार हो रहे खिलाड़ी

उत्तराखंड में नई खेल नीति बनने से विभिन्न खेलों में राज्य के खिलाड़ियों के उज्जवल भविष्य की उम्मीद जगी है। अब प्रदेश में खेल सुविधाओं के विकास के लिए बड़े कदम उठाए जा रहे हैं। इस संबंध में राज्य में वर्ष 2024 में होने वाले 38वें राष्ट्रीय खेलों की तैयारी है। खेल मंत्री रेखा आर्य ने विभागीय अधिकारियों को इसके लिए अभी से तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधोसंरचना विकास कार्यों को समय पर पूरा कराने के लिए वह खुद केंद्र सरकार से आर्थिक सहायता की गुहार लगाएंगी|

आपको बता दें कि इस बार 38वें राष्ट्रीय खेलों का आवंटन वर्ष 2014 में उत्तराखंड को किया गया था, जिसका प्रस्ताव वर्ष 2018 में किया गया था| हालांकि तैयारी शुरू हो गई है लेकिन केंद्र सरकार की ओर से समय पर वित्तीय सहायता भी नहीं मिली, जिसके चलते राष्ट्रीय खेलों का आयोजन नहीं हो सका. हालांकि इसके लिए राज्य सरकार की ओर से करीब डेढ़ सौ करोड़ रुपये मंजूर किए गए थे।

इसके साथ ही राज्य सरकार की ओर से बुनियादी ढांचा विकास कार्यों के लिए 719.44 करोड़ का पीपीआर और योजना के लिए 249.97 करोड़ का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा गया था| विभागीय अधिकारियों ने अपने स्तर पर वित्तीय सहायता के लिए कई बार अनुरोध भी किया, लेकिन केंद्र की ओर से मदद नहीं मिल पाई. जिसके कारण राष्ट्रीय खेल स्थगित कर दिए गए।

अब भविष्य में इस प्रकार की स्थिति को रोकने के लिए खेल विभाग उत्तराखंड ने राष्ट्रीय खेलों की तैयारी शुरू कर दी है। खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि वर्ष 2024 में होने वाले 38वें राष्ट्रीय खेलों के लिए वह स्वयं केंद्र सरकार से सहयोग का अनुरोध करेंगी. आयोजन में किसी भी तरह की कमी नहीं होने दी जाएगी| अब युवा खिलाड़ियों को उम्मीद है कि अगर उन्हें सारे संसाधन उपलब्ध हो गए तो वे भी वंदना की तरह ओलिंपिक का सफर तय करेंगे|

जूनियर हॉकी खिलाड़ी मुस्कान और चांदनी का कहना है कि राष्ट्रीय खेलों की तैयारी के चलते यहां के स्टेडियम में राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं. इन सभी से स्थानीय खिलाड़ियों को काफी फायदा होगा। उसी क्षेत्र की हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया के ओलंपिक में हैट्रिक लगाने के बाद स्थानीय खिलाड़ी भी ओलंपिक में खेलने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news