Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / आपसी रंजिश का शिकार हुआ गुलदार, अल्मोड़ा में संदिग्ध हालत में मिली लाश

आपसी रंजिश का शिकार हुआ गुलदार, अल्मोड़ा में संदिग्ध हालत में मिली लाश

उत्तराखंड में अल्मोड़ा जिले में एक गुलदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वन अधिकारियों के मुताबिक गुलदार की मौत आपसी विवाद के दौरान हुई लगती है. घटना रानीखेत के खिरखेत इलाके की है. जहां एक गुलदार मृत पाया गया। उनके शरीर पर गुलदार के गहरे चोट के निशान हैं। वन अधिकारी ने बताया कि गुलदार का पेट फटा हुआ था. आशंका जताई जा रही है कि अधिक खून बहने और आपसी रंजिश के चलते गहरी चोट लगने से गुलदार की जान चली गई।

मृतक गुलदार की उम्र सात से आठ माह बताई जा रही है। उसका सीना भी खून से लथपथ था। जंगली सूअर के साथ भीषण मुठभेड़ की संभावना के बीच क्षेत्र में मानव-वन्यजीव संघर्षों की भी चर्चा है। घटना मंगलवार को हुई। जलाली मासी रोड पर झालोरी से थोड़ा आगे सड़क पर एक गुलदार पड़ा नजर आया।

शव को देखकर ग्रामीण सहम गए और इसकी सूचना वन विभाग को दी। ग्रामीणों के हल्ला करने के बाद भी गुलदार के शरीर में कोई हलचल नहीं हुई। जिसके बाद ग्रामीणों ने हिम्मत जुटाई और करीब आ गए, लेकिन मौके पर स्थिति देख दंग रह गए. गुलदार का पेट फटा हुआ था। ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी।

वास्तविक कारण अभी भी स्पष्ट नहीं है लेकिन वन अधिकारी हरीश टम्टा ने कहा कि गुलदार की मौत आपसी संघर्ष का परिणाम प्रतीत होती है। वह एक बड़े सूअर की कीलों या जंगली सूअर के जोरदार प्रहार का सामना नहीं कर सका और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। गुलदार के पेट पर कील ठोकने जैसे निशान हैं। वन अधिकारियों ने घटना में मानव-वन्यजीव संघर्ष की संभावना से इनकार किया है। गुलदार के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसके बाद ही मौत की असली वजह का पता चलेगा।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news