Breaking News
Home / उत्तराखंड न्यूज़ / उत्तराखंड की समायरा ने 10 साल की उम्र में बनाया बड़ा नाम, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दर्ज किया नाम

उत्तराखंड की समायरा ने 10 साल की उम्र में बनाया बड़ा नाम, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दर्ज किया नाम

आज के बच्चे अपने समय से काफी आगे हैं। अगर आप 90 के दशक के बच्चों की आज से तुलना करें तो आप उनमें काफी अंतर देख सकते हैं। आज के दौर में बच्चे पुरानी पीढ़ी के मुकाबले बचपन से ही बड़े कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं। इसी क्रम में श्रीनगर गढ़वाल की रहने वाली समायरा रावत ने अपना नाम बनाया है। कहने को समायरा की उम्र महज 10 साल है। लेकिन बेटी की उपलब्धियों को देखकर उसकी उम्र का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता।

आपको बता दें कि 10 साल की समायरा रावत श्रीनगर, गढ़वाल में रहती हैं, वह एक बहु-प्रतिभाशाली बच्ची हैं। वह न केवल पढ़ाई और खेल में बल्कि फैशन और ग्लैमर की दुनिया में भी अपना नाम बना रही हैं। वह टैलेंट आइकॉन 2021, मिस बेलेजा, टैलेंट हंट जैसी प्रतियोगिताओं की विजेता रह चुकी हैं। हाल ही में उन्होंने दिल्ली बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है। अब बेटी की एंट्री नेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भेजी जा रही है।

साल 2017 में समायरा ने 6 से 14 साल की उम्र में एक अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता जीतकर मिस बेलेजा बनने का सफर पूरा किया। इतना ही नहीं वह जिला स्तरीय शतरंज चैंपियन भी हैं। पढ़ाई के साथ-साथ उन्होंने अपनी मेहनत और प्रतिभा के दम पर खेल में कई प्रतियोगिताएं जीती हैं।उत्तराखंड की ये बेटी बॉलीवुड के कई सितारों के साथ कई विज्ञापनों में काम कर चुकी है|

उन्होंने कई प्रिंट शूट, रियलिटी शो भी किए हैं। इसके अलावा वह 2018 में टैलेंट हंट भी जीत चुकी हैं। दरअसल 10 साल की उम्र में अगर किसी बच्चे में ऐसी प्रतिभा है और वह समायरा की तरह मेहनती है तो उसे आगे बढ़ने से कोई ताकत नहीं रोक सकती। समायरा वाकई गढ़वाल ही नहीं बल्कि पूरे उत्तराखंड के लिए एक प्रेरणा हैं।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news