Breaking News
Home / बॉलीवुड / आर्यन खान को गिरफ्तार करने वाले अफसर को नौकरी से किया सस्पेंड, समीर वानखेड़े की बढ़ी परेशानी

आर्यन खान को गिरफ्तार करने वाले अफसर को नौकरी से किया सस्पेंड, समीर वानखेड़े की बढ़ी परेशानी

कुछ महीने पहले शाहरुख के बेटे आर्यन ड्रग केस में दखल देने वाले एनसीबी अफसर समीर वानखेड़े चर्चा का विषय बन गए हैं, अब आर्यन खान जमानत पर जेल से बाहर आ गए हैं लेकिन समीर वानखेड़े के लिए उनकी परेशानी अब और बढ़ गई है! बता दें कि कुछ समय पहले मुंबई में एक क्रू पर रेव पार्टी के दौरान समीर वानखेड़े ने शाहरुख के बेटे को गिरफ्तार किया था|

उन पर आरोप था कि वह इस पार्टी में अपने दोस्तों के साथ सार्वजनिक रूप से ड्रग्स का सेवन कर रहे थे और समीर वानखेड़े ने आर्यन और उसके साथियों को रंगेहाथ पकड़ लिया। आर्यन को पकड़ते ही समीर वानखेड़े सोशल मीडिया पर रातों-रात स्टार बन गए, हर कोई उनकी तारीफ करने लगा और उन्हें रियल लाइफ का सिंघम कहने लगा।

आर्यन की गिरफ्तारी के बाद जैसे ही इस मामले की जांच की गई। कई चौंकाने वाले खुलासे हुए। जिसमें सबसे खास बात यह निकली कि गिरफ्तारी के दौरान आर्यन ने कोई गलत दवा नहीं खाई और न ही उस पर किसी चीज का बैन लगाया गया| जांच में यह बात जरूर सामने आई कि आर्यन खान इन प्रतिबंधित चीजों को लेकर अपने वॉट्सएप के जरिए लगातार बातचीत में रहता था।

इस मामले में टर्निंग प्वाइंट तब सामने आया था। जब एक चश्मदीद ने यह कहकर सनसनी मचा दी थी कि आर्यन को रिहा करने के लिए समीर ने शाहरुख खान से रिश्वत मांगी थी। इस घटना के बाद समीर महाराष्ट्र के राज्य मंत्री नवाब मलिक के निशाने पर चला गया था|

घूसखोरी के मामले में आरोपी होने के बाद समीर पर फर्जी सर्टिफिकेट बनाने का भी गंभीर आरोप लगा और उसे आर्यन केस से भी हटा दिया गया. इन सबके बीच अब एक खबर सामने आई है. समीर खान को अब NCB के जोनल डायरेक्टर के पद से हटा दिया गया| सोमवार को खबर आई थी कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी समीर वानखेड़े को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो से हटा दिया है. उनके नेतृत्व में एक गवाह पर आर्यन खान मामले में जबरन वसूली का आरोप लगाया गया था| राज्य के मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया था कि आईआरएस अधिकारी ने उनके जाति प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया था। वानखेड़े को नई दिल्ली में राजस्व खुफिया निदेशालय के महानिदेशक को रिपोर्ट करने का निर्देश दिया गया है।

About Vaibhav Patwal

Haldwani news